ताज़ा खबर
 

इस मह‍िला को पसीने में पानी नहीं, न‍िकलता है खून, डॉक्‍टर भी हैरान

महिला जब तनाव में होती है, तो उसके शरीर से तीन से पांच मिनट तक पसीने के रूप में खून निकलने लगता है।

पीड़िता को यह समस्या तकरीबन तीन साल से है। इलाज के लिए वह दिल और ब्लड प्रेशर से जुड़े मेडिटेशन का सहारा लेती है। (फोटो सोर्सः cmaj.ca)

शरीर से पसीने में आमतौर पर पानी निकलता है। लेकिन एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसमें महिला के शरीर से पसीने के रूप में खून निकलता है। डॉक्टर भी यह अनोखा मामला देखकर हैरान हैं। उन्होंने सवाल उठाया है कि क्या वाकई में पसीने में खून निकल सकता है? कुछ लोगों का कहना है कि महिला इस बारे में झूठ बोल रही है। जबकि डॉक्टरों ने संभावना जताई है कि पसीने में खून निकलने के पीछे इमोश्नल ट्रॉमा वजह हो सकती है। यूनिवर्सिटी ऑफ फ्लोरेंस के चिकित्सक ने इस बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इटली के अस्पताल में 21 साल की एक महिला भर्ती कराई गई थी। उसके चेहरे, हाथों और शरीर के बाकी हिस्सों से पसीने के रूप में खून निकल रहा था। तीन सालों से उसके साथ ऐसा हो रहा है।

सोमवार को इसी पर कैनेडियन मेडिकल एसोसिएशन जर्नल में केस रिपोर्ट छपी। डॉक्टर रॉबर्टो मैग्ली और मार्जिया क्रैप्रोनी ने उसमें बताया कि महिला के शरीर से खून कभी भी पसीने के रूप में निकलने लगता है। डाक्टरों को उस महिला ने बताया कि तनाव में तो खून एक से पांच मिनट तक निकलता रहता है। यही कारण है कि वह अकेली रहती है। उसमें अवसाद के लक्षण पाए गए हैं। किंगस्टन स्थित क्वीन यूनिवर्सिटी में मेडिकल इतिहासकार जैकेलिन डफिन ने कहा कि उन्होंने इस तरह का मरीज इससे पहले नहीं देखा था। उन्हें इससे जानने समझने के लिए मेडिकल इतिहास से गुजरना पड़ा, जिसमें उन्होंने लगभग दो दर्जन ऐसे ही मामले साल 2000 के आसपास के पाए। यहां पसीने में खून निकलने की बात को लोगों ने पहले प्रभु यीशू से जोड़ कर देखा।

डॉक्टर ने बताया कि यह उन्हें संकेत देता है कि इस तरह के और भी मामले होंगे। ज्यादातर लोग या तो इसे गंभीरता से लेते नहीं या फिर वे परेशान होने कारण इस बात को सबसे छिपाते हैं। उन्होंने कई रिपोर्ट्स में पाया कि खून इमोश्नल ट्रॉमा के चलते निकलता है। फिलहाल पीड़िता का प्रोप्रानोलोल से इलाज किया जा रहा है, जिसमें वह हर्ट और ब्लड प्रेशर से जुड़ा मेडिटेशन करती है। हालांकि, इस प्रक्रिया से उसके शरीर से खून निकलना कम हुआ है। लेकिन बंद नहीं हुआ है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App