ताज़ा खबर
 

अमेरिका: गे नाइट क्‍लब के हमलावर को थी समलैंगिकों से नफरत, रोज करता था बीवी की पिटाई

फ्लोरिडा के गे नाइट क्‍लब में हमलावर उमर मतीन ने अंधाधुंध गोलियां बरसाई थीं। हमले में 50 लोगों की मौत हो गई थी तथा 53 लोग घायल हैं।

Author नई दिल्‍ली | Updated: June 13, 2016 1:16 PM
मतीन के पास एक स्‍माल कैलिबर हैंडगन थी और वह एक सिक्‍योर फैसिलिटी में काम करता था।

अमेरिका के एक नाइट क्‍लब में 50 लोगों की गोली मारकर हत्‍या करने वाले 29 साल के उमर मतीन का पिछला रिकॉर्ड हिंसा से भरा रहा है। अमेरिकी मीडिया द्वारा जब मतीन के रिश्‍तेदारों से बात की गई, जो उन्‍होंने बताया कि वह एक सिक्‍योरिटी ऑफिसर की नौकरी करता था। वह धर्म के पीछे पागल नहीं था, मगर समलैंगिकता-विरोधी सोच वाला व्‍यक्ति था जो अपनी पिछली पत्‍नी को मारता-पीटता था।

मतीन के अफगानी मूल के पिता मीर सिद्दीकी ने भी कहा कि उन्‍हें लगता है कि उनका बेटा समलैंगिकों के प्रति नफरत की वजह से इतने लोगों की जान लेने पर उतारू हो गया, इसमें उसके मुस्लिम धर्म का कोई हाथ नहीं है। NBC News से बात करते हुए उन्‍होंने कहा कि हाल ही में उमर मायामी में एक गे कपल को किस करते देख गुस्‍सा हो गया था। मतीन के पिता ने पूरी घटना के लिए माफी मांगी है।

REAL ALSO: अमेरिका: गे क्लब में अंधाधुंध गोलीबारी में 50 की मौत, 53 घायल, 5 घंटे बाद हमलावर भी मारा गया

READ ALSO: FBI के राडार पर था फ्लोरिडा के नाइट क्‍लब में गोलियां बरसाने वाला उमर मतीन , पिता ने मांगी माफी

एक इंटरव्‍यू में मतीन की पूर्व पत्‍नी, जिसने मतीन को 2011 में जान जाने के डर से छोड़ दिया था, ने कहा कि वह बहुत हिंसक था। The Washington Post से बातचीत में उसने बताया, “वह दिमागी रूप से ठीक नहीं था। वह मुझे मारता था। वह बस घर लौटता और मुझे पीटना शुरू कर देता क्‍योंकि मैंने कपड़े नहीं धोए होते थे।”

READ ALSO: अमेरिका: नाइट क्‍लब हमले की दहशत, प्रत्‍यक्षदर्शी बोला- मैं यही दुआ करता रहा कि कोई गोली मुझे ना लगे

कुछ रिपोर्ट के अनुसार, मतीन के पास एक स्‍माल कैलिबर हैंडगन थी और वह एक सिक्‍योर फैसिलिटी में काम करता था। अन्‍य मीडिया रिेपोर्ट्स में कहा गया है कि वह पूर्व में अमेरिकी जांच एजेंसियों के राडार पर था।

SEE PHOTOS: अमेरिका: गे क्लब पर हुआ आतंकी हमला, तस्वीरों में देखें दहशत के चार घंटे

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X