ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान में भूकम्प से मरने वालों की संख्या 250 हुई

सोमवार को पाकिस्तान में भूकंप से मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 250 हो गयी जबकि घायलों की संख्या 1,600 से अधिक है। जियो न्यूज की खबर के अनुसार केपी और फाटा भूकंप..

Author पेशावर/काबुल | October 27, 2015 11:24 PM
पेशावर में सोमवार को आए भीषण भूकंप से ध्वस्त मकानों को साफ करने में जुटे स्थानीय नागरिक। (फोटो-रॉयटर्स)

पाकिस्तान और अफगानिस्तान में सोमवार को आए भूकम्प से मरने वाले वालों की संख्या 300 के पार पहुंच गई है। पाकिस्तान में 250 और अफगानिस्तान में 76 से ज्यादा लोग अब तक मारे जा चुके हैं।

स्थानीय मीडिया की खबर के अनुसार दस सालों में आए सबसे भीषण भूकम्प से मरने वाले लोगों की संख्या बढ़ कर 250 हो गई। इससे पहले 228 लोगों के मरने की खबर थी जिनमें खैबर पख्तूनख्वा एवं संघ प्रशासित कबाइली क्षेत्र (फाटा) के 214, पंजाब के पांच और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के नौ लोग शामिल हैं। जियो न्यूज की खबर के अनुसार केपी और फाटा भूकम्प से सबसे बुरी तरह प्रभावित हुए हैं।

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) ने कहा कि पाकिस्तान में कम से कम 1620 लोग घायल हुए हैं। आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘केपी में मंगलवार सुबह तक 185 लोग मारे गए थे और 1456 लोग घायल हुए जिनमें से कइयों की हालत गंभीर है। घायलों में महिलाएं और बच्चे शामिल हैं। उन्होंने कहा कि पीडीएमए ने जरूरत का तेजी से आकलन करने और जमीनी स्तर पर राहत गतिविधियों की देखरेख करने के मकसद से प्रभावित जिलों का दौरा करने के लिए सात टीमें गठित की हैं। पाकिस्तानी सेना के बचाव दल भूकम्प के कारण हुई जान माल की क्षति का जायजा ले रहे हैं।

इस बीच प्रधानमंत्री नवाज शरीफ अमेरिका के दौरे से लौट आए। इस्लामाबाद पहुंचने के साथ ही उन्होंने राहत प्रयासों पर चर्चा के लिए एक बैठक बुलाई। बाद में शरीफ भूकम्प प्रभावित लोगों से मिलने के लिए दोपहर में शांग्ला गए और राहत कार्यों का जायजा लिया।

उधर, अफगानिस्तान में तालिबान ने धर्मार्थ संगठनों से कहा है कि वे भूकम्प पीड़ितों की मदद करने में कोई डर महसूस न करें, क्योंकि इसने प्रभावित क्षेत्रों में अपने आतंकवादियों को ‘पूरी मदद’ करने का आदेश दिया है। भूकम्प से अफगानिस्तान में कम से कम 76 लोगों की मौत हुई है। राहतकर्मियों को सर्वाधिक प्रभावित इलाकों में से उन कुछ जगहों पर जाने के लिए जद्दोजहद करनी पड़ रही है जहां आतंकवादियों का प्रभाव है। आधिकारिक सहायता प्रयासों के लिए यह एक बड़ी चुनौती है।

लेकिन तालिबान ने आज वायदा किया कि वह सहायता संगठनों को रास्ता उपलब्ध कराएगा। समूह ने अपनी वेबसाइट पर कहा कि इस्लामिक एमीरेट (तालिबान) आह्वान करता है कि धर्मार्थ संगठन भूकम्प पीड़ितों को आश्रय, भोजन और चिकित्सा सहायता उपलब्ध कराने में कोई डर महसूस न करें।
अफगान आपदा प्रबंधन अधिकारियों का कहना है कि दूरदराज के बादख्शां प्रांत में भूकम्प के केंद्र के आसपास के इलाकों और तखार व कुनार जैसे पड़ोसी प्रांतों में भी भारी नुकसान हुआ है।

अफगानिस्तान के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अब्दुल्ला अब्दुल्ला ने कहा कि प्रारंभिक आकलन के अनुसार भूकम्प से करीब चार हजार मकान नष्ट हुए हैं। उन्होंने मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका जताते हुए कहा कि भूकम्प में महिलाओं और बच्चों सहित लगभग 76 लोगों की मौत हुई है और 268 अन्य घायल हुए हैं।

लगातार ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट्स, एनालिसिस, ब्‍लॉग पढ़ने के लिए आप हमारा फेसबुक पेज लाइक करेंगूगल प्लस पर हमसे जुड़ें  और ट्विटर पर भी हमें फॉलो करें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App