ताज़ा खबर
 

सीरिया में आत्‍मघाती आतंकी हमले के कारण 21 ईराकी सैनिकों की मौत

सीरिया के पश्चिमोत्तर प्रांत इदलिब के एक गांव में रविवार को हुए हमले में सीरियाई इस्लामिक विद्रोही समूह के 21 लड़ाकों की मौत हो गई।

Iraqi Special Operations Forces (ISOF) REUTERS

सीरिया के पश्चिमोत्तर प्रांत इदलिब के एक गांव में रविवार को हुए हमले में सीरियाई इस्लामिक विद्रोही समूह के 21 लड़ाकों की मौत हो गई। समाचार एजेंसी एफे ने ब्रिटेन की मानवाधिकार संस्था सीरिया ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स के हवाले से बताया कि तेल तोकान के गांव में अहरार अल-शाम विद्रोही समूह के सैन्य ठिकानों पर दो विस्फोट हुए। मृतकों में अहरार अल-शाम का एक कमांडर भी शामिल है।
टेलीग्राम को दिए गए एक संदेश में अहरार अल-शाम ने इस हमले के लिए आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) को जिम्मेदार ठहराया है। हालांकि, अभी तक न ही आईएस और न ही किसी अन्य आतंकवादी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है।

आपको बता दें कि हाल ही खबर आई थी कि अमेरिका समर्थित लड़ाकों ने सीरिया के तबका में प्रवेश करने के एक हफ्ते बाद इस्लामिक स्टेट से इस शहर के 80 प्रतिशत हिस्से को छीन लिया है। एक निगरानी समूह ने आज बताया कि सीरियाई डेमोक्रेटिक फोर्सेज (एसडीएफ) पिछले हफ्ते दक्षिण की ओर से तबका शहर में घुसी थी और उत्तर की ओर बढ़ीं, जहां फिरात नदी के तट पर तीन इलाको के करीब आईएस को किनारे कर दिया। रणनीतिक शहर तबका, राका शहर के पश्चिम में तकरीबन 55 किलोमीटर लंबे आपूर्ति मार्ग पर पड़ता है जो सीरिया में आईएस के क्षेत्र की वस्तुत: राजधानी है।
सीरियन आॅब्जेवेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स के प्रमुख रमी अब्देल रहमान ने कहा कि तड़के में आईएस के लड़ाके पश्चिमी इलाकों से हटकर अन्य इलाकों की ओर चले गए।

अब्देल रहमान ने कहा, ‘‘ एसडीएफ का अब तबका के 80 प्रतिशत से ज्यादा इलाके पर नियंत्रण है। उन्होंने एएफपी से कहा कि पूरे शहर में आईएस का कब्जा सिर्फ दो इलाकों पर है। निगरानी समूह की रपट के मुताबिक, अमेरिका नीत गठबंधन वाले बलों की ओर से की गई बमबारी और संघर्ष ने सोमवार सुबह को शहर को हिला दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App