ताज़ा खबर
 

जिसे हुआ पहली बार COVID-19, उसे अगले 6 माह तक फिर नहीं होता है संक्रमण! स्टडी में दावा

शोधपत्र प्रकाशन के पूर्व के चरणों में है और इसके लेखकों में शामिल आयरे ने कहा, ‘‘इस अध्ययन में बड़ी संख्या में स्वास्थ्य कर्मियों को शामिल किया गया।

Author , लंदन/दुबई | Updated: November 21, 2020 11:40 PM
coronavirus reinfection, covid-19 re infection, coronavirus, covid-19, infectionलंदन में ऑक्सफोर्ड स्ट्रीट पर एक क्रिसमस ट्री के बगल से जाती हुई मास्क लगाए महिला। (फोटोः REUTERS)

ब्रिटेन में एक नये अध्ययन में कहा गया है कि कोविड-19 से पहले संक्रमित हो चुके लोगों को पहले संक्रमण के बाद कम से कम छह महीने तक दोबारा यह बीमारी होने की बहुत कम संभावना होती है। ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय तथा ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय अस्पताल (ओयूएच) के एनएचएस फाउंडेशन ट्रस्ट के बीच साझेदारी के तहत अध्ययन किया गया जिसमें अग्रिम पंक्ति में रहकर काम करने वाले स्वास्थ्य कर्मियों को शामिल किया गया है।

अध्ययन में बताया गया है कि पिछले छह महीने में संक्रमित हुए अधिकतर लोगों को दोबारा कोविड-19 होने की संभावना नहीं है। ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के नफील्ड डिपार्टमेंट ऑफ पॉपुलेशन हेल्थ के प्रोफेसर डेविड आयरे ने कहा, ‘‘यह वाकई अच्छी खबर है क्योंकि हम भरोसा कर सकते हैं कि कोविड-19 ग्रस्त हो चुके अधिकतर लोग कम से कम कुछ समय के लिए दोबारा संक्रमित नहीं होंगे।’’

शोधपत्र प्रकाशन के पूर्व के चरणों में है और इसके लेखकों में शामिल आयरे ने कहा, ‘‘इस अध्ययन में बड़ी संख्या में स्वास्थ्य कर्मियों को शामिल किया गया। इसमें सामने आया है कि कोविड-19 कम से कम छह महीने तक अधिकतर लोगों को पुन: संक्रमण से बचाता है। जिन प्रतिभागियों में एंटीबॉडी पाये गये, उनमें से किसी को लक्षण के साथ कोई संक्रमण नहीं दिखाई दिया।’’

जी-20 शिखर सम्मेलन प्रारंभ, सऊदी अरब ने संक्रमण से निपटने के लिए एकजुट प्रयासों की अपील कीः सऊदी अरब के शाह सलमान ने शनिवार को जी-20 शिखर सम्मेलन की शुरुआत की और कोरोना वायरस संक्रमण से निपटने के लिए एकजुट प्रयासों की अपील की। संक्रमण के कारण इस बार जी-20 शिखर सम्मेलन ऑनलाइन आयोजित हो रहा है जहां विभिन्न देशों के राष्ट्राध्यक्ष व्यक्तिगत रूप से नहीं बल्कि ऑनलाइन माध्यम से सम्मेलन को संबोधित करेंगे।

शाह सलमान ने अपने संबोधन में कहा,‘‘ यह हमारा कर्तव्य है कि इस चुनौती के खिलाफ इस सम्मेलन में हम एकजुट हों और उम्मीद तथा पुन: भरोसे का संदेश दें।’’ सऊदी अरब इस वर्ष जी-20 का अध्यक्ष है और इस वर्चुअल शिखर सम्मेलन की मेजबानी कर रहा है जिसमें विश्व के सर्वाधिक संपन्न और सर्वाधिक विकसित अर्थव्यवस्था वाले देश जैसे अमेरिका, चीन ,भारत , तुर्की, फ्रांस, ब्रिटेन, ब्राजील सहित अन्य देशों के नेता शिरकत कर रहे हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 पाकिस्तान में मिला भगवान विष्णु का 1300 साल पुराना मंदिर, जब काबुल में था हिंदुओं का राज
2 6 साल बाद भी रहस्य है नर्स मोनिका की हत्या, सरकार ने गुत्थी सुलझाने वाले के लिए रखा 5 लाख डॉलर का इनाम
3 ‘पिन प्वाइंट स्ट्राइक’ पर बोले BJP प्रवक्ता- फिर साबित हुआ कि 56 इंची छाती कैसी होती है, कमर चीमा बोले- मोदी दाढ़ी रख मजनू बन गए
यह पढ़ा क्या?
X