ताज़ा खबर
 

इस महिला ने चार दिन में कमाए 12500 करोड़ से ज्यादा, कभी चावल की खेती करते थे पिता

इस इजाफे के साथ हूयांग की सम्‍पत्ति बढ़कर 25.6 अरब डॉलर यानी करीब 1.62 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा हो गई है।

36 साल की यांग हूयांग ने साल 2005 में कंपनी में अपने पिता की जगह ली थी।

चीन की एक महिला ने महज 4 दिन में 12,500 करोड़ रुपए कमा लिए हैं। ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स के मुताबिक यांग हूयांग चीन की पांचवीं सबसे अमीर व्यक्ति बन गई हैं। साथ ही यह देश की सबसे अमीर महिला भी बन गई हैं। यांग हूयांग चीन की कंट्री गार्डेन होल्डिंग्‍स कॉरपोरेशन की वाइस चेयरमेन हैं। साल के पहले 4 दिन में ही ट्रेडिंग के दौरान इनकी संपत्ति में 12,500 करोड़ रुपए का इजाफा हो गया है। साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट के मुताबिक 36 साल की यांग हूयांग ने साल 2005 में कंपनी में अपने पिता की जगह ली थी। यांग हूयांग ने अपने पिता की कंपनी को देश की एक बड़ी कंस्ट्रक्शन कंपनी बना दिया है।

1992 में कंट्री गार्डेन होल्डिंग्‍स कॉरपोरेशन की स्थापना से पहले इनके पिता चावल की खेती करते थे। उनके पिता यांग गुओकियांग हैं, जिन्हें आमतौर पर यूंग क्वोक केंग के नाम से जाना जाता है। उन्होंने 1992 में कंट्री गार्डन होल्डिंग्स की स्थापना की थी। इस इजाफे के साथ हूयांग की सम्‍पत्ति बढ़कर 25.6 अरब डॉलर यानी करीब 1.62 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा हो गई है। कंपनी ने 2017 की अपनी सेल की जानकारी में बताया है कि कंपनी ने 550.8 यूआन (85 बिलियन डॉलर) का बिजनेस किया जो कि उसके 500 बिलियन यूआन के टारगेट से ज्यादा था।

चीन के प्रॉपर्टी मार्केट में आए बूम का सबसे ज्यादा फायदा हूयांग की कंपनी को मिला है। हालांकि चीन की दूसरी बड़ी रियल एस्‍टेट कंपनी चाइना एवरग्रेड ग्रुप के शेयरों में भी जोरदार उछाल आया है। इसके मालिक हू का यान की संपत्ति बढ़कर करीब 38.2 अरब डॉलर हो गई है। अब ये अली बाबा के जैक मा और टेंसेंट कंपनी के पोनी मा के बाद तीसरे सबसे अमीर व्‍यक्ति हो गए हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 पाकिस्तान ने 147 भारतीय मछुआरे रिहा किए
2 चीन : समुद्र तट के पास 2 जहाजों में टक्कर, 32 लापता
3 ”हाफिज सईद के साथ दिखे राजदूत को वापस पाकिस्‍तान भेजा” पाक मीडिया के इस दावे से फलस्‍तीन का इंकार