ताज़ा खबर
 

डोनाल्ड ट्रम्प ने कानून पारित कर मास्क, ग्लॉव्स और मेडिकल इक्वीपमेंट के निर्यात पर लगाई रोक, अमेरिकियों से कहा- हमेशा पहनकर रहें फेस मास्क

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने शुक्रवार को कहा कि वह कोरोनोवायरस उपचार में उपयोग किए जाने वाले एन 95 मास्क, सर्जिकल मास्क, दस्ताने और अन्य व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) के निर्यात को रोकने के लिए सरकार ने रक्षा उत्पादन अधिनियम लागू किया है।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कानून पारित कर मास्क, ग्लॉव्स और मेडिकल इक्वीपमेंट के निर्यात पर रोक लगा दी है। (AP Photo/Pablo Martinez Monsivais)

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कानून पारित कर मास्क, ग्लॉव्स और मेडिकल इक्वीपमेंट के निर्यात पर रोक लगा दी है। कोरोनावायरस टास्कफोर्स प्रेस ब्रीफिंग में व्हाइट हाउस से बात करते हुए, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने शुक्रवार को कहा कि वह कोरोनोवायरस उपचार में उपयोग किए जाने वाले एन 95 मास्क, सर्जिकल मास्क, दस्ताने और अन्य व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) के निर्यात को रोकने के लिए सरकार ने रक्षा उत्पादन अधिनियम लागू किया है। यह निर्देश बेईमान और मुनाफाखोरों द्वारा दुर्लभ स्वास्थ्य और चिकित्सा आपूर्ति के निर्यात पर रोक लगाने के लिए है।

उन्होंने कहा कि होमलैंड सिक्योरिटी डिपार्टमेंट और फेडरल इमरजेंसी मैनेजमेंट एजेंसी (फेमा) इस निर्देश पर संयुक्त रूप से काम करेंगे। ट्रम्प ने कहा “हमें घरेलू उपयोग के लिए इन वस्तुओं की तुरंत आवश्यकता है। हमारे पास ये होना चाहिए ।”

कुछ दिन पहले ट्रम्प ने कहा था कि अमेरिकियों को कोरोनोवायरस के खिलाफ एहतियात के तौर पर फेस मास्क नहीं पहनना है। शुक्रवार को राष्ट्रपति ट्रम्प ने रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केंद्र (सीडीसी) की नई गाइड लाइन जारी की और कहा कि चेहरे को ढकने के लिए गैर-चिकित्सा कपड़े का इस्तेमाल किया जाना चाहिए। उन्होने गैर-चिकित्सीय मास्क का इस्तेमाल करने का सुझाव दिया है। ट्रंप ने लोगों से स्कार्फ या घर पर बने कपड़े के मास्क से चेहरा ढंकने और चिकित्सा वाले मास्क स्वास्थ्यकर्मियों के लिए छोड़ने का अनुरोध किया है।

Coronavirus in India LIVE Updates: यहां पढ़ें कोरोना वायरस से जुड़ी सभी लाइव अपडेट

उन्होंने कहा, ‘सीडीसी चिकित्सा या सर्जिकल मास्क का इस्तेमाल करने की सिफारिश नहीं कर रही है। इनकी जरूरत अमेरिकियों की जान बचाने के लिए काम कर रहे चिकित्साकर्मियों को है। चिकित्सा रक्षा उपकरण अग्रणी मोर्चे पर काम कर रहे स्वास्थ्य देखभाल कर्मियों के लिए रखे होने चाहिए जो महत्वपूर्ण सेवाएं दे रहे हैं।’

अमेरिका में कोरोना वायरस से शुक्रवार को 1,480 लोगों की मौत हो गई है और इस वायरस से किसी भी देश में एक दिन के भीतर मौत का यह सबसे बड़ा आंकड़ा है। इससे एक दिन पहले अमेरिका में 1,169 लोगों की मौत हो गई थी। इसी के साथ अमेरिका में मरने वालों का आंकड़ा शुक्रवार दोपहर तक 7,077 पहुंच गया है। वहीं अबतक इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 273,880 हो गई है।

जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए |इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस? । इन वेबसाइट और ऐप्स से पाएं कोरोना वायरस के सटीक आंकड़ों की जानकारी, दुनिया और भारत के हर राज्य की मिलेगी डिटेल । कोरोना संक्रमण के बीच सुर्खियों में आए तबलीगी जमात और मरकज की कैसे हुई शुरुआत, जान‍िए

Next Stories
1 Coronavirus in World Highlights: कोरोना से लड़ने को बांग्लादेशी PM ने 72,750 करोड़ टका के आर्थिक पैकेज का किया ऐलान
2 मास्क, गॉगल्स, स्पेशल सूट के बावजूद कोरोना वायरस से बच नहीं पाए, इटली के डॉक्टर की आपबीती
3 कोरोना: प्र‍िंस चार्ल्‍स ने केंद्रीय मंत्री के दावे को बताया झूठ, कहा- आयुर्वेद से नहीं हुआ ठीक
ये पढ़ा क्या?
X