ताज़ा खबर
 

चीनी मीड‍िया ने खोली पाक‍िस्‍तान की पोल, कहा- भारत पर हमले की खबर और तस्‍वीरें झूठी

सोमवार (17 जुलाई) को भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले ने कहा था कि "ये खबरें पूरी तरह बोगस और आधारहीन हैं, ये कपटपूर्ण और शरारतभरी हैं।"

dunya news fake photoपाकिस्तानी चैनल ने इस तस्वीर को भारतीय सीमा पर चीन के हमले की बताया है। जबकि भारतीय सेना का कहना है कि यह पुरानी तस्वीर ट्रेनिंग के दौरान हुए हादसे की है। (Photo Source: Dunya News)

भारतीय सेना के बाद चीन के आधिकारिक समाचार पत्रों ने भी पाकिस्तानी मीडिया की उन खबरों को बेबुनियाद बताया है जिनमें सिक्किम सीमा पर चीनी रॉकेट से 158 भारतीय सैनिकों के मारे जाने का दावा किया गया था। चीन के पीपल्स डेली ऑनलाइन ने पाकिस्तानी टीवी दुनिया न्यूज में चली खबरों को “आधारहीन” बताया है। उर्दू चैनल दुनिया न्यूज ने न केवल टीवी पर फर्जी खबर चलाई बल्कि अपने वेबसाइट पर भारत और चीन के बीच चल रहे युद्ध की मनगढ़ंत कहानी के साथ जाली तस्वीरें भी जारी कर दीं। भारतीय सेना ने तस्वीरें सामने आने के कुछ देर बाद ही उन्हें फर्ज करार दे दिया। भारतीय सेना ने इसे पाकिस्तानी मीडिया का “कपटपूर्ण दुष्प्रचार” बताया। सोमवार (17 जुलाई) को भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले ने कहा था कि “ये खबरें पूरी तरह बोगस और आधारहीन हैं, ये कपटपूर्ण और शरारतभरी हैं। ऐसी खबरों का बिल्कुल संज्ञान नहीं लेना चाहिए।” सिक्किम स्थित भारत चीन सीमा पर दोनों देशों के बीच एक महीन से अधिक समय से तनाव है।

चीनी अखबार ने लिखा है कि पाकिस्तानी मीडिया सोशल मीडिया और इंटरनेट के हवाले से ऐसी खबरें चल रहा है लेकिन ये मनगढ़ंत हैं। चीन की सत्ताधारी पार्टी के आधिकारिक अखबार ग्लोबल टाइम्स ने भी पाकिस्तानी मीडिया में आई खबरों को “आधारहीन और जाली” बताया है। चीन के कई अन्य मीडिया संस्थानों ने इस बारे में पाकिस्तानी मीडिया में चल रही खबरों का खंडन किया है। चीन में मीडियार पर सरकार का नियंत्रण है। ग्लोबल टाइम्स में प्रकाशित रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तानी मीडिया जिन तस्वीरों को सिक्किम सीमा का बता रहा है वो कश्मीर की हैं।

सिक्किम स्थिति भारत चीन सीमा पर ताजा विवाद छह जून को शुरू हुआ जब चीनी सेना ने भारतीय इलाके में स्थित बंकर को नष्ट कर दिया। वहीं भारत ने भूटान के डोकलाम इलाके में चीन द्वारा सड़क बनाने का विरोध किया। चीन इस इलाके को अपना डोंगलॉन्ग इलाका बताता है। डोकलाम में भारतीय और चीनी सैनिक आमने-सामने मानव-शृंखला बनाकर खड़े हैं। चीन ने भारत से मांग की है कि वो डोकलाम इलाके से भारतीय सैनिक हटाए। वहीं भारत ने साफ किया है कि दोनों देशों के बीच 2012 में इस इलाके में यथास्थिति बनाए रखने को लेकर सहमति बनी थी और इसमें बदलाव भारत के लिए चिंताजनक है। सिक्किम के डोकलाम इलाके में भारत की सरहद तिब्बत और भूटान से लगती हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 इस जीनियस ने अपने घर के बैकयार्ड में फैमिली के लिए बनवाया यह आलीशान स्विमिंग पूल
2 ब्राजील: राष्ट्रपति का समर्थन करने पर महिला नेता की शादी में बरसाए गए अंडे, गाड़ी में बैठ भागने को हुई मजूबर
3 PoK के बीमार शख्स की मदद करेंगी सुषमा स्वराज, कहा – भारत का अभिन्न हिस्सा है, वीजा ने लिए नहीं लेनी होगी इजाजत
IPL 2020 LIVE
X