ताज़ा खबर
 

ऑनलाइन नक्शे के नियमन को और कड़ा करेगा चीन

शिन्हुआ संवाद समिति ने कहा कि सरकार ने पाया है कि ऑनलाइन पोस्ट किए गए कुछ मानचित्र सटीक नहीं हैं और ‘राष्ट्रीय संप्रभुता और हितों’ की रक्षा पर इससे असर पड़ सकता है।

Author बीजिंग | Published on: September 2, 2016 5:13 PM
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है। (एपी फोटो)

क्षेत्रों पर अपने दावे को स्पष्ट करने के लिए चीन ऑनलाइन मानचित्र नियमन को कड़ा बना रहा है। यह जानकारी शुक्रवार (2 सितंबर) को सरकारी मीडिया ने दी। पूर्वी और दक्षिण चीन सागर में पड़ोसियों के साथ विवाद के बीच उसकी यह पहल सामने आई है। शिन्हुआ संवाद समिति ने कहा कि सरकार ने पाया है कि ऑनलाइन पोस्ट किए गए कुछ मानचित्र सटीक नहीं हैं और ‘राष्ट्रीय संप्रभुता और हितों’ की रक्षा पर इससे असर पड़ सकता है। इसने राष्ट्रीय सीमा लाइन के सीमांकन में त्रुटि का जिक्र करते हुए कहा कि कुछ ‘क्षेत्रीय प्रायद्वीपों को गलती से छोड़ दिया गया है।’ उसका इशारा दक्षिण और पूर्वी चीन सागर में जल और प्रायद्वीप पर चीन के दावे की तरफ है। एजेंसी ने कहा कि इस तरह के काम से ‘चीन की क्षेत्रीय संप्रभुता, राष्ट्रीय सुरक्षा और हितों को नुकसान पहुंचा है और चीनी सरकार के दावों और स्थिति को लेकर अंतरराष्ट्रीय समुदाय की समझ को इससे झटका लग सकता है।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 बलूच अलगाववादी नेता बुगती को वापस लाने में जुटा पाकिस्तान, इंटरपोल से लेगा मदद
2 उज्‍बेकिस्‍तान के राष्‍ट्रपति इस्‍लाम करिेमोव का निधन, जिन्‍होंने बंद कर दिया था अमेरिका का सैन्‍य ठिकाना
3 SpaceX रॉकेट विस्फोट के बाद भी नासा का क्षुद्रग्रह अभियान सही दिशा में
जस्‍ट नाउ
X