ताज़ा खबर
 

चीन ने पंचाट के फैसले से पहले दक्षिण चीन सागर में किया नौसैन्य युद्धाभ्यास

यह अभ्यास दक्षिण चीन के हैनान द्वीप और शिशा द्वीपसमूहों के पास जल क्षेत्र में किया गया। शिशा द्वीपसमूह को पार्सल द्वीप समूह भी कहते हैं जिस पर वियतनाम दावा करता है।
Author बीजिंग | July 9, 2016 20:00 pm
दक्षिण चीन सागर में शनिवार (9 जुलाई) को चीन द्वारा किए गए युद्धाभ्यास की तस्वीर। (एपी फोटो)

चीन की नौसेना ने दक्षिण चीन सागर (एससीएस) को लेकर फिलीपीन के साथ विवाद पर एक अंतरराष्ट्रीय पंचाट का 12 जुलाई को फैसला आने से पहले अपनी शक्ति दिखाने के लिए इस सागर में युद्धाभ्यास किया। यह अभ्यास दक्षिण चीन के हैनान द्वीप और शिशा द्वीपसमूहों के पास जल क्षेत्र में किया गया। शिशा द्वीपसमूह को पार्सल द्वीप समूह भी कहते हैं जिस पर वियतनाम दावा करता है।

सरकारी शिन्हुआ समाचार एजेंसी ने शनिवार (9 जुलाई) को खबर दी कि नन्हाई बेड़े के अलावा बेइहाई बेड़े और डोंघई बेड़े के कुछ बलों ने नौसेना के वार्षिक नियमित सैन्य अभ्यास में भाग लिया जिसमें विमान, पनडुब्बी, पोत और तटीय रक्षा सहित अन्य बल शामिल हुए। वियतनाम ने इस युद्धाभ्यास पर चीन को विरोध जताया है। चीन दक्षिण चीन सागर के लगभग हर क्षेत्र में अपना दावा करता है जबकि फिलीपीन, वियतनाम, मलेशिया, ब्रूनेई और ताईवान भी इस क्षेत्र में अपना अपना दावा करते हैं।

इस अभ्यास के रविवार (10 जुलाई) तक चलने की संभावना है जबकि इसके एक दिन बाद द हेग स्थित एक अंतरराष्ट्रीय पंचाट 12 जुलाई को दक्षिण चीन सागर पर चीन के दावे को चुनौती देने वाली फिलीपीन की याचिका पर फैसला सुनाएगा। चीन ने हालांकि इस पंचाट का बहिष्कार किया है और कहा है कि वह पंचाट के फैसले को लागू नहीं करेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App