ताज़ा खबर
 
title-bar

चीन में दूध पाउडर घोटाले में नौ गिरफ्तार

शंघाई खाद्य सुरक्षा कार्यालय के उप निदेशक यान जुकियांग के मुताबिक, नकली उत्पाद चार प्रांतों-हेनान, अनहुई, जियांग्सू और हुबेई में बेचे जा रहे थे।

Author बेजिंग | April 10, 2016 10:47 PM
साल 2008 में मेलामाइन से विषाक्त हुआ दूध पीने से छह नवजात शिशुओं की मौत हो गई थी। (एपी फाइल फोटो)

चीन में हाल में हुए दूध पाउडर घोटाले में नौ लोगों को गिरफ्तार किया गया है। यह घोटाला बच्चों के लिए नकली दूध पाउडर बनाने और दो लोकप्रिय ब्रांड के नामों से बिक्री करने से जुड़ा है। स्टेट काउंसिल (मंत्रिमंडल) के तहत आने वाले चीन के खाद्य सुरक्षा आयोग ने कहा कि शंघाई पुलिस ने संदिग्धों में से छह लोगों को अभियोग के लिए और अन्य संदिग्ध का पता लगाने के लिए न्यायिक संस्थाओं के पास भेज दिया है। इस नकली बेबी फार्मूला (बच्चों का पाउडर वाला दूध) न्यूयार्क में सूचीबद्ध एबट लेबोरेटरीज की मशहूर कंपनी सिमिलैक के ब्रांडों के तहत बेचा जा रहा था। इसके अलावा इसे चीन के सबसे बड़े बेबी फार्मूला उत्पादक बींगमेट के तहत भी बेचा जा रहा था। यह हालिया घोटाला चीन के संवेदनशील उपभोक्ताओं के लिए एक नया झटका है।

साल 2008 में मेलामाइन से विषाक्त हुआ दूध पीने से छह नवजात शिशुओं की मौत हो जाने पर बेबी फार्मूला उत्पादों को भारी आघात लगा था। शंघाई पुलिस ने सितंबर में रिपोर्ट मिलने के बाद मामले की जांच शुरू कर दी थी। नौ दिसंबर 2015 से सात जनवरी 2016 तक उन्होंने नौ संदिग्धों को गिरफ्तार किया है और दूध पाउडर के लगभग 1000 डिब्बे जब्त किए हैं। इसके अलावा पुलिस ने 20 हजार से ज्यादा खाली डिब्बे और सिमिलैक के 65 हजार नकली ट्रेडमार्क जब्त किए हैं।

शंघाई खाद्य सुरक्षा कार्यालय के उप निदेशक यान जुकियांग के मुताबिक, नकली उत्पाद चार प्रांतों-हेनान, अनहुई, जियांग्सू और हुबेई में बेचे जा रहे थे। आयोग के मुताबिक, हुबेई, जियांग्सू और अनहुई के तीन विक्रेताओं ने पाउडर पर संदेह होने के बाद स्वेच्छा से 3300 डिब्बे नष्ट कर दिए थे। शंघाई पुलिस ने अन्य 5000 डिब्बे जब्त किए हैं। अब भी नकली सिमिलैक पाउडर के 3300 डिब्बे ऐसे हैं, जिनकी जिम्मेदारी किसी ने नहीं ली है।

अनहुई के एक अन्य विक्रेता ने माना है कि बींगमेट के 3600 डिब्बे बेचे गए थे। सरकारी समाचार एजंसी शिन्हुआ ने खबर दी कि संबंधित प्रांत के अधिकारी नकली उत्पादों का पता लगा रहे हैं। खाद्य सुरक्षा आयोग के उपप्रमुख तेंग जियाकाई ने कहा कि एजंसी उद्योग में नियमन को मजबूत करने के लिए खाद्य सुरक्षा प्रणाली को सुधारेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App