ताज़ा खबर
 

फुटबॉल के 30 मैदानों के बराबर टेलीस्कोप बना कर एलियंस की आवाज सुनेगा चीन

दुनिया की सबसे ज्यादा आबादी वाला देश चीन अमेरिका से आगे बढ़ने की लगातार कोशिश कर रहा है। अब चीन ने एलियंस की दुनिया को लेकर हो रहे शोध में अमेरिका से आगे निकलने की कोशिश की है।

इस टेलीस्कोप को लेकर चीन की सरकार का कहना है कि अब इसकी मदद से चांद पर इस्तेमाल किए जाने वाले सेलफोन के बारे में पता लगाने की कोशिश करेगा।

दुनिया की सबसे ज्यादा आबादी वाला देश चीन अमेरिका से आगे बढ़ने की लगातार कोशिश कर रहा है। अब चीन ने एलियंस की दुनिया को लेकर हो रहे शोध में अमेरिका से आगे निकलने की कोशिश की है। दरसअल चीन ने 25 सिंतबर को आधिकारिक तौर पर 500 मीटर एपर्चर गोलाकार टेलीस्कोप शुरू किया है। बताया जा रहा है कि यह एपर्चर गोलाकार टेलीस्कोप देश की राजधानी बीजिंग से 1240 मील दूर है और इसका नाम FAST है। चीन की ओर से दुनिया का सबसे बड़ा रेडियो टेलीस्कोप बनाया गया है जो कि 1650 फीट बड़ा है और करीब 30 फुटबॉल मैदानों के बराबर है। रिपोर्ट्स के मुताबिक चीन ने इस टेलीस्कोप को बनाने का कार्य बीते साल जुलाई में ही पूरा कर लिया था।

इस टेलीस्कोप को बनाने के बाद वैज्ञानिकों का मानना है कि ये टेलीस्कोप अंतरिक्ष में रिसर्च करने में कारगर होगा और इससे कई अहम बातें सामने आएगी। इस टेलीस्कोप को लेकर नोबेल पुरस्कार विजेता और खगोल विज्ञानी जोसेफ टेलर ने न्यूज एजेंसी सिन्हुआ को बताया है कि इससे विज्ञान के क्षेत्र में चीन की ताकत सबसे सामने आएगी और वो इसे माध्यम से दिखाना चाहते हैं कि चीन विज्ञान के क्षेत्र में भी किसी देश से पीछे नहीं है। इसी के साथ चीन भी इस टेलीस्कोप के जरिए कई अहम योजनाएं बना रहा है। इस टेलीस्कोप को लेकर चीन की सरकार का कहना है कि अब इसकी मदद से चांद पर इस्तेमाल किए जाने वाले सेलफोन के बारे में पता लगाने की कोशिश करेगा।

इस आविष्कार को लेकर एक इंजीनियर ने चीन की समाचार एजेंसी को कहा है कि चिंता मत करिए और भविष्य में ऐसा जरुर होगा। बता दें कि दुनिया की सबसे बड़ी महाशक्ति अमेरिका और दुनिया की सबसे ज्यादा आबादी वाले देश चीन की आपस में बनती नहीं है। दोनों ही देश हर क्षेत्र में एक दूसरे से आगे निकलने के लिए कुछ ना कुछ प्रयोग करते ही रहते हैं। दोनों देश हथियारों की होड़ में एक दूसरे से आगे निकलनी की भी भरपूर कोशिश में लगे रहते हैं।

पाकिस्तान के साथ मिलकर बैलिस्टिक मिसाइल्स, एयरक्राफ्ट्स बनाएगा चीन

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App