ताज़ा खबर
 

चीन में बारिश से 225 की मौत, ढाई लाख लोग फंसे, बाढ़ में डूबा पूरा गांव

इस प्राकृतिक आपदा में 700,000 हेक्टेयर से ज्यादा की फसल तबाह हो गई, जिससे अर्थव्यस्था को सीधे 2.4 अरब अमेरिकी डॉलर का नुकसान हुआ है।

Author बीजिंग | July 24, 2016 3:30 PM
बाढ़ में डूबा चीन का एक प्रांत। (AP/PTI)

चीन में भारी बारिश और बाढ़ की वजह से तकरीबन 225 लोगों की मौत हो गई या वे लापता हैं, वहीं मध्य हुबेई प्रांत में अब भी लगभग ढाई लाख लोग बाढ़ के पानी में फंसे हुए हैं। हुबेई प्रांत में तिआनमेन नगर की सरकार ने बताया कि 18 से 20 जुलाई के बीच लगातार हुई मूसलाधार बारिश की वजह से 6.80 से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं और 10 शहर जलमग्न हो गए हैं। सरकारी शिन्हुआ समाचार एजेंसी ने खबर दी है कि बचाव कार्य के लिए 500 से ज्यादा सैनिक, 1,000 लोग और 62 स्पीडबोट भेजी गई हैं, जबकि नदी के किनारों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए 10,000 से अधिक लोगों को भेजा गया है।

हुबेई प्रांत में कम से कम 114 लोगों की मौत हो चुकी है और 111 अन्य लापता हैं। स्थानीय प्रशासन ने करीब 3.10 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है। बाढ़ और बारिश के कारण कई जगहों पर भूस्खलन हुआ जिसकी वजह से 52,900 घर ढह गए जबकि 155,000 घर क्षतिग्रस्त हुए हैं। इस प्राकृतिक आपदा में 700,000 हेक्टेयर से ज्यादा की फसल तबाह हो गई, जिससे अर्थव्यस्था को सीधे 2.4 अरब अमेरिकी डॉलर का नुकसान हुआ है।

बाढ़ से शिन्गताई शहर का दाशिआन गांव सर्वाधिक प्रभावित हुआ है जो बुधवार को बाढ़ आने बाद जलमग्न हो गया था। इसके बाद गांव लगभग खाली हो चुका है। यहां कम से कम आठ ग्रामीणों की मौत हुई है और एक लापता है। एक ग्रामीण झांग एरकिआंग ने बताया, ‘मैंने देर रात करीब ढाई बजे लोगों को ‘बाढ़’ चिल्लाते हुए सुना। मैंने अपनी पत्नी और बच्चों को उठाया और फौरन बाहर की ओर भागा। जल्दी पानी का स्तर मेरी कमर के ऊपर आ गया था।’

झांग ने कहा, ‘मेरी पत्नी और मैं दहशत में आ गए और हम पेड़ पर चढ़ गए और सुबह जबतक बचावकर्ता नहीं आए तबतक हम कई घंटे पेड़ पर ही रहे।’ उसने कहा, ‘मगर मेरी बेटी और बेटा बाढ़ के पानी में बह गए। उनके शव मिले हैं।’ गांव में सिर्फ दर्जन भर ग्रामीण ही रुके हैं जबकि बाकी लोग गांव छोड़कर अपने रिश्तेदारों के यहां चले गए हैं। हॉन्ग कॉन्ग के साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट ने खबर दी है कि दक्षिण बीजिंग से सिर्फ 400 किलोमीटर दूर शिंगताई में बड़ी संख्या में लोगों के हताहत होने की खबर पिछले 24 घंटे के दौरान ही उभरना शुरू हुई जब हजारों लोग स्थानीय कथित विलंबित आपदा चेतावनी और गैर प्रभावी बचाव प्रयासों के विरोध में प्रदर्शन करने के लिए सड़कों पर निकले थे।

मीडिया की खबरों में कहा गया है कि बाढ़ का पानी नदी के तटों से बाहर आ गया और कम से कम 12 गांवों में घुस गया। प्रांत के पश्चिम में स्थित जिंगशिंग काउंटी में मंगलवार (19 जुलाई) को दोपहर एक बजे और बुधवार (20 जुलाई) सुबह आठ बजे के बीच 19 घंटे में औसत 545.4 मिमी बारिश हुई है। समूचे जिंगशिंग में बिजली ठप है, संचार बाधित है और सड़कें बंद हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App