ताज़ा खबर
 

चीन ने भारत के मंगल मिशन की कामयाबी को सराहा

बेजिंग। चीन ने सफल मंगल मिशन के लिए भारत को बधाई दी। चीन ने कहा कि मंगल मिशन की सफलता न सिर्फ भारत और एशिया के लिए एक गौरवशाली उपलब्धि है बल्कि इंसान द्वारा अंतरिक्ष के रहस्यों को जानने की दिशा में ‘अहम प्रगति’ भी है। भारत के मार्स आॅर्बिटर मिशन (एमओएम) अंतरिक्ष यान ‘मंगलयान’ […]

Author September 25, 2014 8:27 AM

बेजिंग। चीन ने सफल मंगल मिशन के लिए भारत को बधाई दी। चीन ने कहा कि मंगल मिशन की सफलता न सिर्फ भारत और एशिया के लिए एक गौरवशाली उपलब्धि है बल्कि इंसान द्वारा अंतरिक्ष के रहस्यों को जानने की दिशा में ‘अहम प्रगति’ भी है।

भारत के मार्स आॅर्बिटर मिशन (एमओएम) अंतरिक्ष यान ‘मंगलयान’ की सफल यात्रा के बारे में पूछे गए एक सवाल के जवाब में चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने यहां पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा, ‘हमने रिपोर्ट देखी है और मंगल उपग्रह की कक्षा में सफल प्रवेश पर भारत को बधाई देते हैं।’

हुआ ने कहा, ‘यह भारत और एशिया का गौरव है और इंसान द्वारा अंतरिक्ष के रहस्य जानने की दिशा में एक अहम प्रगति है। लिहाजा, हम भारत को इसके लिए बधाई देते हैं।’ यह पूछे जाने पर कि क्या चीन अंतरिक्ष के रहस्य जानने के लिए भविष्य में भारत के साथ काम करने की कोई गुंजाइश देखता है, इस पर उन्होंने कहा, ‘चीन ने हमेशा अंतरिक्ष का शांतिपूर्ण विकास चाहा है और इस बाबत सहयोग किया है।’ हुआ ने कहा, ‘अंतरिक्ष के विकास और उसके रहस्यों को जानने के लिए हम दुनिया के साथ काम करने और अंतरिक्ष के सतत विकास एवं दीर्घकालिक शांति के लिए योगदान करने को तैयार हैं।’

चीन अंतरिक्ष में मानवयुक्त और चांद पर मानवरहित मिशन भेजने में कामयाब रहा है, लेकिन वह मंगल पर सफलतापूर्वक कोई मिशन भेजने में अब तक नाकाम रहा है। 2011 में चीन के पहले मंगल खोज मिशन ‘यिंग्हुओ-1’ को लेकर जा रहा रूसी अंतरिक्ष यान एक साल बाद हादसे का शिकार हो गया था।

संयुक्त राष्ट्र की अलकायदा प्रतिबंध सूची में 16 और नाम  संयुक्त राष्ट्र, 24 सितंबर (एपी)। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की एक समिति ने अपनी अलकायदा प्रतिबंध सूची में 16 और नाम जोड़े हैं, जिनमें इस्लामिक स्टेट समूह से जुड़ा एक व्यक्ति शामिल है। परिषद ने एक प्रस्ताव पास कर इस सूची का विस्तार किया ताकि इराक और सीरिया के बड़े क्षेत्रों पर कब्जा करने वाले इस चरमपंथी समूह से जुड़े लोगों को इसके दायरे में लाया जा सके।
इराक के अब्द अल रहमान मुहम्मद मुस्तफा अल कादली का नाम इस सूची में इस्लामिक स्टेट समूह के एक वरिष्ठ अधिकारी के तौर पर शामिल किया गया है। 2012 में जेल से रिहा होने के बाद वह दोबारा समूह से जुड़ गया था। उसे और अन्य व्यक्तियों और संस्थाओं को प्रतिबंध सूची में जोड़ा गया है जिसमें आर्थिक प्रतिबंध, यात्रा प्रतिबंध और हथियार प्रतिबंध का प्रावधान है। परिषद ने हाल के प्रस्ताव में आग्रह किया कि प्रतिबंध समिति ऐसे और लोगों के नाम इसमें शामिल करने पर विचार करे, जो इस्लामिक स्टेट समूह के समर्थक हैं।

 

Next Stories
1 संयुक्त राष्ट्र की अलकायदा प्रतिबंध सूची में 16 और नाम
2 नरेंद्र मोदी का नवरात्र उपवास कोई मुद्दा नहीं: व्हाइट हाउस
3 नरेंद्र मोदी की अमेरिका यात्रा के दौरान प्रदर्शन के आसार
आज का राशिफल
X