scorecardresearch

चीनः बीजिंग में पहले ओमिक्रोन केस के लिए कनाडा को ठहराया जिम्मेदार, जानें एक पार्सल को लेकर कैसे जड़ा वायरस भेजने का आरोप

बीजिंग में सामने आए कोरोना (Coronavirus) के नए वैरिएंट के पहले मामले के बाद, चीन ने कहा कि कनाडा से बीजिंग भेजा गया एक अंतरराष्ट्रीय पार्सल, जो कि अमेरिका और हॉन्गकॉन्ग के रास्ते आया था, उसी के जरिए ओमिक्रोन (Omicron) चीन पहुंचा।

China Omicron
बीजिंग में सड़क किनारे चलते लोग (फोटो- एपी)

पूरी दुनिया कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रोन का कहर झेल रही है। चीन की राजधानी बीजिंग में भी हाल ही में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन का पहला मामला सामने आया है। इसके बाद चीन ने आरोप लगाया है कि बीजिंग में ओमिक्रोन का पहला केस कनाडा से भेजे गए एक पार्सल के कारण सामने आया है।

बीजिंग में सामने आए कोरोना के नए वैरिएंट के पहले मामले के बाद, चीन ने कहा कि कनाडा से भेजा गया एक अंतरराष्ट्रीय पार्सल, जो कि अमेरिका और हॉन्गकॉन्ग के रास्ते आया था, उसी के जरिए ओमिक्रोन चीन पहुंचा। बीजिंग शीतकालीन ओलंपिक से पहले सामने आए ओमिक्रोन के मामले के बाद अधिकारियों के सामने इसे फैलने से रोकने की चुनौतियां हैं। कुछ दिनों पहले, तियांजिग शहर में ओमिक्रोन वैरिएंट का पहला केस पाया गया था।

चीनी मीडिया के मुताबिक, बीजिंग में ओमिक्रोन का जो इकलौता मामला सामने आया है, उसकी ट्रैकिंग में पाया गया कि यह वैरिएंट कनाडा से आए एक अंतरराष्ट्रीय दस्तावेज (पार्सल) के जरिए बीजिंग पहुंचा। स्थानीय रिपोर्ट्स में बताया गया है कि चीन में जो स्ट्रेन मिला, वह उत्तर अमेरिका और सिंगापुर में भी मिला है। एक अधिकारी ने बताया, ”मरीज ने कहा कि उसने पैकेज के बाहर और अंदर दस्तावेज़ के पहले पेज को छुआ था।”

संक्रमण के लक्षण दिखाई देने से पहले, 14 दिनों के भीतर मरीज का अन्य प्रांतों या शहरों की कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं थी और न ही उसका किसी रिस्क ग्रुप के साथ कोई संपर्क था। पार्सल से जुड़े आठ लोगों को ट्रैक किया गया। अधिकारी ने कहा कि उनके न्यूक्लिक एसिड परीक्षण के परिणाम नेगेटिव आए थे। बता दें कि चीन में ही पहली बार कोरोना संक्रमण के मामले साल 2019 के अंत में सामने आए थे।

चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने सोमवार को विभिन्न शहरों में कोरोना वायरस के 243 मामलों की जानकारी दी, जिनमें 3,494 मरीजों का अभी भी इलाज जारी है। इनमें 15 की हालत गंभीर बताई जा रही है। बीजिंग शीतकालीन ओलंपिक से पहले कोरोना के बढ़ते मामलों ने चीन की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। चीन ने इसको लेकर कई शहरों में सख्ती बढ़ा दी है।

पढें अंतरराष्ट्रीय (International News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.