ताज़ा खबर
 

एवरेस्ट को बदरंग करने वाले पर्यटकों को काली सूची में डालेगा चीन

सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ की खबर के अनुसार 2015 में आधार शिविर में 40,000 यात्राएं की गईं जिनमें से इस मौसम में हर दिन औसतन 550 यात्राएं हुईं।
Author बीजिंग | May 11, 2016 00:10 am
माउंट एवरेस्ट या माउंट कोमोलांगमा (एवरेस्ट का तिब्बती नाम)। (AP Photo/Tashi Sherpa)

चीन तिब्बत में माउंट एवरेस्ट और दूसरे ऐतिहासिक दर्शनीय स्थलों को बदरंग करने वाले पर्यटकों का नाम एक काली सूची में डालकर उन्हें शर्मिंदा करेगा। तिब्बत के टिंगरी काउंटी के टूरिज्म ब्यूरो के प्रमुख गू चुनलेई ने कहा, ‘‘इस साल से हम शुरुआत करते हुए खराब व्यवहार वाले लोगों जैसे कि उन स्थलों को बदरंग करने वालों को दंडित करने के लिए एक काली सूची तैयार करेंगे।’’

हर साल मई में माउंट एवरेस्ट या माउंट कोमोलांगमा (एवरेस्ट का तिब्बती नाम) में पर्यटकों की आवाजाही शुरू हो जाती है। एवरेस्ट के आधार शिविर में पर्यटकों का तांता लग जाता है। सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ की खबर के अनुसार 2015 में आधार शिविर में 40,000 यात्राएं की गईं जिनमें से इस मौसम में हर दिन औसतन 550 यात्राएं हुईं।

तिब्बत में पर्यटन तेजी से बढ़ रहा है। 2015 के पहले आठ महीनों में हिमालयी क्षेत्र में 43 लाख पर्यटक पहुंचे थे जिनसे तीन अरब डॉलर का राजस्व अर्जित हुआ था। इन पर्यटकों में अधिकतर चीनी पर्यटक थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.