ताज़ा खबर
 

गूगल का शेफ भी नौकरी छोड़ने पर था चार करोड़ डॉलर का मालिक, ऐसे मिला था काम

चार्ली बताते हैं कि उस वक्त सिलिकॉन वैली में स्टार्टअप्स शुरु हो रहे थे और इंटरनेट की दुनिया ने आकार लेना शुरु ही किया था। साल 1999 में अपनी लॉन्चिंग के एक माह बाद ही गूगल ने एक शेफ के लिए वैकेंसी निकाली थी।

Author नई दिल्ली | Published on: August 14, 2019 11:43 AM
शेफ चार्ली एअर्स जूनियर। (Image source-facebook/Fayetteville Roots Festival)

गूगल आज तकनीक की दुनिया की सिरमौर कंपनियों में से एक है। साल 1999 में शुरू होने वाली गूगल ने तरक्की के नए आयाम स्थापित किए हैं। यही वजह है कि कंपनी की शुरुआत में उसके साथ जुड़ने वाले कर्मचारी आज करोड़पति हैं। इन्हीं करोड़पति लोगों में से एक शख्स का नाम है चार्ली एअर्स जूनियर। बता दें कि चार्ली ने गूगल में बतौर शेफ नौकरी शुरू की थी और जब उन्होंने नौकरी छोड़ी तो वह चार करोड़ डॉलर के मालिक थे।

चार्ली एअर्स बताते हैं कि साल 1998 में वह कैलिफोर्निया में एक परिवार के लिए शेफ का काम करते थे। उस वक्त उनकी उम्र 31 साल थी। इकोनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, चार्ली बताते हैं कि उस वक्त सिलिकॉन वैली में स्टार्टअप्स शुरु हो रहे थे और इंटरनेट की दुनिया ने आकार लेना शुरु ही किया था। साल 1999 में अपनी लॉन्चिंग के एक माह बाद ही गूगल ने एक शेफ के लिए वैकेंसी निकाली, जो कंपनी के कर्मचारियों के लिए खाना बना सके।

चार्ली एअर्स जूनियर बताते हैं कि उन्होंने भी इसके लिए अप्लाई किया। चार्ली बताते हैं कि कई दिनों तक उन्हें कोई जवाब नहीं आया। इसलिए उन्होंने कुछ व्यंजन बनाकर कंपनी भेजने शुरू कर दिए, ताकि उन्हें टेस्ट करके ही कंपनी उन्हें मौका दे दे। चार्ली की यह कोशिश बेकार नहीं गई और कुछ दिन बाद ही उन्हें गूगल से इंटरव्यू के लिए फोन आ गया।

चार्ली एअर्स जूनियर बताते हैं कि नौकरी के पहले दिन उन्हें कैलिफोर्निया में कंपनी के मुख्यालय में 50 लोगों का खाना बनाने को कहा गया। समय के साथ गूगल तेजी से बढ़ती चली गई और राजस्व के साथ ही कंपनी के कर्मचारियों की संख्या में खासा इजाफा हुआ। हालांकि इससे चार्ली एअर्स का काम काफी बढ़ गया। चार्ली बताते हैं कि एक वक्त वह एक दिन में 10,000 लोगों के लिए खाना बनाते थे, जो कि काफी मुश्किल काम था।

चार्ली ने बताया कि इस बीच एक फाइनेंशियल एनालिस्ट ने उन्हें बताया कि गूगल आने वाले समय में काफी तरक्की करेगी। इसलिए एनालिस्ट ने उन्हें कंपनी में स्टॉक खरीदने की सलाह दी। उस वक्त कंपनी के एक शेयर की कीमत 2 सेंट थी। इसके बाद चार्ली ने अपने पिता से 14,000 डॉलर उधार लिए और गूगल के 7,00,000 शेयर खरीद लिए।

चार्ली ने साल 2006 में गूगल छोड़ दी, लेकिन जिस वक्त उन्होंने कंपनी छोड़ी, उस वक्त वह करोड़पति बन चुके थे। चार्ली के शेयरों की कीमत करीब 4 करोड़ डॉलर पर पहुंच गई थी। नौकरी छोड़ने के बाद चार्ली ने एक रेस्टोरेंट खोला।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 मलेशिया में भी सांप्रदायिक जहर फैलाने का काम कर रहा जाकिर नायक, मंत्री ने कहा- इसे देश से बाहर भेजो
2 हॉन्ग-कॉन्गः एयरपोर्ट पर घुसे उग्र प्रदर्शनकारियों-पुलिस के बीच झड़प, दूसरे दिन भी सभी उड़ानें रद्द
3 पाकिस्तानः महाराजा रणजीत सिंह की मूर्ति संग तोड़फोड़, हमलावर बोले- प्रतिमा हटाए प्रशासन, वरना फिर करेंगे क्षतिग्रस्त