scorecardresearch

हर सिगरेट पर वार्निंग लिखने वाला दुनिया का पहला देश बनने जा रहा कनाडा

कानून के मुताबिक सिगरेट बेचने वाली कंपनियों को सिगरेट के पैकेट पर वैधानिक चेतावनी लिखना अनिवार्य होता है। इसमें सिगरेट से होने वाले नुकसान और कैंसर के बारे में चेतावनी छपी होती है। जल्द ही हर एक सिगरेट पर ये चेतावनी छपी हुई देखने को मिलेगी ताकि लोगों को सिगरेट से होने वाले नुकसान के प्रति जागरूक किया जा सके।

Smoking| Smoking warning| cigarette
स्मोकिंग करने से शरीर की ब्‍लड वेंस प्रभावित होती हैं, जिससे ब्‍लड फ्लो कम हो जाता है और किडनी पर काफी प्रेशर पड़ता है। (photo-freepik)

कनाडा दुनिया का पहला ऐसा देश बनने जा रहा है, जहां हर एक सिगरेट पर स्वास्थ्य संबंधी चेतावनी छपी होगी। ये चेतावनी बताएगी कि सिगरेट पीना सेहत के लिए कितना खतरनाक है। इससे पहले, देश में तंबाकू उत्पादों की पैकिंग पर चेतावनी के रूप में एक ग्राफिक फोटो लगाने की नीति लागू की गई थी। दो दशक पहले शुरू की गई इस नीति को दुनियाभर में अपनाया गया।

हर व्यक्ति तक संदेश पहुंचे: कनाडा के मानसिक स्वास्थ्य मंत्री कैरोलिन बेनेट ने शुक्रवार (10 जून 2022) को आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, “हमें उन चिंताओं को दूर करना है कि इन संदेशों का असर कम हो गया है। हर तंबाकू उत्पाद पर स्वास्थ्य संबंधी चेतावनी लिखने से सुनिश्चित किया जा सकेगा कि यह जरूरी संदेश हर व्यक्ति तक पहुंचे। खासतौर पर वो युवा जो एक बार में एक सिगरेट लेते हैं और पैकेट पर लिखी चेतावनी नहीं देख पाते।”

2023 में हो सकता है लागू: कैरोलिन बेनेट ने जानकारी दी कि इस प्रस्ताव पर शनिवार से चर्चा शुरू होगी और सरकार को लगता है कि 2023 के अंत तक यह नियम लागू किया जा सकेगा। बेनेट ने बताया कि फिलहाल प्रत्येक सिगरेट पर ‘हर कश में जहर है’ संदेश लिखने का प्रस्ताव है। हालांकि, इसमें बदलाव भी किया जा सकता है। बेनेट ने सिगरेट पैकेजिंग पर छपने वाली लंबी चेतावनियों का भी खुलासा किया जिसमें पेट के कैंसर, कोलोरेक्टल कैंसर, डायबिटीज़ सहित धूम्रपान के स्वास्थ्य पर पड़ने वाले नकारात्मक प्रभावों की एक लंबी सूची शामिल है।

किसी दूसरे देश में नहीं है ऐसा नियम: साल 2000 से कनाडा ने अपने यहां बिकने वाले तंबाकू उत्पादों पर फोटो वॉर्निंग लगाना अनिवार्य कर दिया है। लेकिन इन तस्वीरों को काफी दिनों से अपडेट नहीं किया गया है। कनाडा कैंसर सोसायटी के सीनियर पॉलिसी एनालिस्ट रॉब कनिंघम ने कहा, “यह पहल विश्व स्तर पर एक मिसाल कायम करेगी। किसी दूसरे देश ने इस तरह के नियमों को लागू नहीं किया है।”

कनाडा में पिछले कुछ सालों में धूम्रपान की दर में लगातार गिरावट आ रही है। पिछले महीने जारी नवीनतम आंकड़ों के मुताबिक कनाडा के 10% लोग नियमित रूप से धूम्रपान करते हैं। सरकार 2035 तक इस दर को आधा करने की कोशिश में है।

पढें अंतरराष्ट्रीय (International News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X