ताज़ा खबर
 

ब्रिटिश पीएम टेरिसा मे से डोनाल्ड ट्रंप ने कहा- ब्रिटेन का यूरोपीय संघ छोड़ना दुनिया के लिए वरदान

मे ने अमेरिकी राष्ट्रपति को अपने देश आने का न्योता दिया। ट्रंप आगे इसी वर्ष वहां की यात्रा करेंगे।

Author Published on: January 28, 2017 5:33 PM
वॉशिंगटन के ओवल व्हाईट हाउस ऑफिस में ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरीजा मे का स्वागत करते अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप। (REUTERS/Kevin Lamarque/27 jam, 2017)

अमेरिका के नए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने यूरोपीय संघ छोड़ने के ब्रिटेन के निर्णय को दुनिया का ‘वरदान’ बताते हुए कहा है कि इससे इस यूरोपीय देश को अपनी ‘खुद की पहचान’ मिलेगी। ट्रंप राष्ट्रपति पद संभालने के बाद अपनी पहली शिखर बैठक में ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरिजा मे से मिले। ट्रंप ने व्हाइट हाउस में सुर्ख परिधान में आयीं ब्रिटेन की प्रधानमंत्री का खुद बाहर आ कर स्वागत किया और इसके बाद दोनों नेताओं की अमेरिकी राष्ट्रपति के कार्यालय ओवल आफिस में बैठक चली।

बैठक के बाद दोनों ने संवाददाताओं को संबोधित किया। ट्रंम्प ने यूरोपीय संघ (ईयू) छोड़ने के ब्रिटेन के निर्णय का समर्थन किया। उन्होंने कहा, ‘एक मुक्त और स्वतंत्र ब्रिटेन विश्व के लिए वरदान है और हमारे संबंध इससे मजबूत कभी नहीं रहे।’ दोनों ने पारस्परिक वाणिज्यिक संबंधों की मजबूती के लिए काम करने का वायदा किया है। मे को उम्मीद है कि अमेरिका के साथ जल्द से जल्द एक नया व्यापार समझौता हो जाने पर ब्रेक्जिट (ईयू छोड़ने) का असर कम होगा।

मे ने अमेरिकी राष्ट्रपति को अपने देश आने का न्योता दिया। ट्रंप आगे इसी वर्ष वहां की यात्रा करेंगे। मे ने कहा कि दोनों देशों के रक्षा संबंध इस समय अपनी सबसे गहराई पर है और दोनों के बीच व्यापार मझौता दोनों के राष्ट्रीय हित में होगा। ट्रम्प ने कहा कि ब्रिटेन का ईयू छोड़ना उसके लिए ‘कमाल की बात है… मेरा मानना है कि चीजें स्थिर होने के बाद आपको (ब्रिटेन क): आप की खुद की पहचान मिलेगी। इससे आप अपने देश में उन्हीं लोगों को आने देंगे जिन्हें आप आने देना चाहतें हैं।

ट्रम्प ने यह भी कहा कि ब्रेक्जिट के बाद ब्रिटेन दूसरे देशों के साथ ‘मुक्त व्यापार समझौते करने को स्वतंत्र होगा’ और कोई अन्य यह ताक झांक नहीं कर रहा होगा कि ‘आप क्या कर रहे हैं।’ रूस पर लगाए गए आर्थिक प्रतिबंधों को हटाए जाने के बारे में जब ट्रंप से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि इस बारे में अभी कुछ कहना जल्दबाजी होगी जबकि मे ने उम्मीद जताई कि ये प्रतिबंध अभी जारी रहेंगे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 डोनाल्ड ट्रंप के ऑर्डर से परेशान मार्क जुकरबर्ग, फेसबुक पर लिखा – यूएस के बॉर्डर खुले रखने चाहिए
2 डोनाल्ड ट्रंप ने किए हस्ताक्षर, इस्लामी चरमपंथियों को अमेरिका से रखा जाएगा दूर
3 इस्राइली प्रधानमंत्री से भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर पूछताछ