ताज़ा खबर
 

VIDEO: कश्मीर पर भारत का समर्थन करने वाली विदेशी महिला पत्रकार से पाक समर्थकों ने की बदसलूकी

विदेशी पत्रकार हॉपकिंस संग बुरे बर्ताव का एक वीडियो सोशल मीडिया में भी खूब वायरल हो रहा है। पाकिस्तान मूल के लेखक तारेक फतेह ने भी घटना से जुड़ा एक वीडियो अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है।

kashmirएक ट्वीट में पत्रकार केटी ने लिखा कि यह काफी दुखद है कि दिवाली के मौके पर लंदन में भारत-विरोधी प्रदर्शन की अनुमति दी गई।

जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधान निरस्त किए जाने के बाद पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान खासा परेशान है। इसके नागरिक विदेशों में भारतीय दूतावासों के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं। खास बात है कि विदेशों में पाकिस्तान मूल के नागरिक उन लोगों को भी निशाना बना रहे हैं जिन्होंने कश्मीर पर भारतीय कार्रवाई का समर्थन किया।

ऐसा ही एक मामला ब्रिटेन में सामने आया, यहां भारत का समर्थन करने वाली बिट्रिश पत्रकार केटी हॉपकिंस के साथ लंदन में पाकिस्तान समर्थक भीड़ ने बुरा बर्ताव किया। विभिन्न मीडिया रिपोर्ट्स में हॉपकिंस संग बुरे बर्ताव को उनका जम्मू-कश्मीर मामले में भारत के प्रति समर्थन माना गया है।

हॉपकिंस संग बुरे बर्ताव का ऐसा ही वीडियो सोशल मीडिया में भी खूब वायरल हो रहा है। पाकिस्तान मूल के लेखक तारेक फतेह ने भी घटना से जुड़ा एक वीडियो अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है। उन्होंने लिखा, ‘हिंदू त्योहार के प्रति अनादर दिखाने के लिए पाकिस्तान मूल के लोगों ने लंदन में धावा बोल दिया।’

दरअसल लंदन की सड़कों पर पाकिस्तानी समर्थकों ने दिवाली (27 अक्टूबर, 2019) के मौके पर भारत विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान भारतीयों का समर्थन करने हॉपकिंस भी पहुंच गईं। उनके मुताबिक पाकिस्तानी समर्थकों को यह बात अच्छी नहीं लगी। उन्होंने केटी को बुरा-भला कहना शुरू कर दिया। एक वीडियो में पाकिस्तानी समर्थक ब्रिटिश पत्रकार, भारतीयों और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अपशब्द भी कहते नजर आए।

पत्रकार केटी ने वीडियो अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है। इसमें उन्होंने उन अपशब्दों का जिक्र किया है, जो पाकिस्तान समर्थकों ने उन्हें कहे।

उल्लेखनीय है कि केटी को स्कॉटलैंड यार्ड यानी वहां की पुलिस ने किसी तरह सुरक्षित निकाला। इस पर केटी ने कहा कि पुलिस की बदौलत बदसलूकी और बदजुबानी पर उतरी भीड़ से बच पाईं।

एक ट्वीट में केटी ने लिखा कि यह काफी दुखद है कि दिवाली के मौके पर लंदन में भारत-विरोधी प्रदर्शन की अनुमति दी गई। एक संजीदा ब्रिटिश नागरिक भारत के साथ है वह इस मुल्क में शांति से रह रहे भारतीयों के साथ है।

Next Stories
1 बगदादी को मशहूर अंग्रेजी अखबार ने बताया ‘धार्मिक विद्वान’, सोशल मीडिया पर जमकर हो रही फजीहत
2 ‘कुत्ते की मौत मारा गया बगदादी, खुद को धमाके से उड़ाया’, अमेरिकी राष्ट्रपति ने सुनाई ISIS चीफ के खात्मे की कहानी
3 पाकिस्तान ने दूसरी बार पीएम मोदी के लिए अपने हवाई क्षेत्र के इस्तेमाल से किया इनकार, विदेश मंत्री ने कश्मीर का दिया हवाला
यह पढ़ा क्या?
X