ताज़ा खबर
 

मारी गई मिसेज टेरर: ISIS की महिला कमांडर व्हाइट विडो जंग में ढेर

ISIS में व्हाइट विडो अनवर-अल-अवालिकी बटालियन की महिला विंग की प्रमुख थी।
व्हाइट विडो के नाम से कुख्यात ब्रिटेन की महिला आतंकी सैली जोन्स (फोटो-ट्विटर)

सैली जोन्स, ये नाम है ब्रिटेन की उस महिला का जिसके इरादे इंग्लैंड में शरिया कानून स्थापित करने की थी। ISIS की ये महिला आतंकी काफिरों का सर कलम कर देने की हामी थी। लेकिन इस खूंखार आतंकी के जवानी दिन के काफी मस्ती भरे थे। वो पेशे से रॉक सिंगर थी और एक आम ब्रिटिश लड़की जैसी बिंदास जीवन जीती थी। लेकिन जब दहशतगर्दी विचारधारा के संपर्क में आई तो उसकी जिंदगी दिशा ही बदल गई। ब्रिटिश अखबार टेलिग्राफ के मुताबिक तीन साल तक दुनिया की मोस्ट वांटेड महिला आतंकी की लिस्ट में रहने वाली सैली जोन्स का सफर अब खत्म हो चुका है। रिपोर्ट के मुताबिक सैली जोन्स सीरिया और इराक बॉर्डर पर ड्रोन हमले में मारी गई है। न्यूज रिपोर्ट के मुताबिक सीआईए अधिकारियों ने अपने ब्रिटिश समकक्षों को बताया कि अमेरिकी एयर फोर्स के एक प्रीडेटर ड्रोन ने 50 साल की जोन्स को रक्का के पास मार गिराया। सैली जोन्स 2013 में अपने छोटे बेटे के साथ केंट से सीरिया भाग गई थी। सीरिया में सैली जोन्स एक दूसरे ब्रिटिश ISIS आतंकी जुनैद हुसैन से शादी कर ली।

फोटो-ट्विटर

 

कैसे बनी व्हाइड विडो

सैली जोन्स सिंगल मदर थी और सरकारी अनुदान पर अपने बच्चे के साथ रहती थी तभी उसकी मुलाकात जुनैद हुसैन से हुई जो उस वक्त 19 साल का था। पेशे से हैकर जुनैद हुसैन ISIS की विचारधारा से प्रभावित था और वो भी यूरोपियन देशों में इस्लामिक राज कायम करना चाहता था। सैली जोन्स जुनैद से इस कदर प्रभावित हुई कि वो उसके साथ सीरिया अमेरिकी सैनिकों से जंग लड़ने पहुंच गई। सीरिया में सैली जोन्स की क्रूरता काफी चर्चा में रही, वो ISIS द्वारा काफिरों का सर कलम कर देने की प्रथा की हिमायती थी। अगस्त 2015 में सैली जोन्स का पति जुनैद सीरिया में एक कार में ड्रोन हमले में मारा गया। इसके बाद से सैली जोन्स व्हाइट विडो बन गई।

रिपोर्ट्स के मुताबिक सीरिया में व्हाइट विडो ने दर्जनों यूरोपियन महिलाओं की ISIS में भर्ती की और उन्हें जंग के लिए ट्रेनिंग दी। माना जाता है कि ISIS का गढ़ रक्का उसका ठिकाना था। रिपोर्ट्स के मुताबिक ISIS में व्हाइट विडो अनवर-अल-अवालिकी बटालियन की महिला विंग की प्रमुख थी। इस ग्रुप का काम पश्चिमी देशों में हमले की योजना बनाना और उन्हें कार्यान्वित करना था। व्हाइट विडो की कई तस्वीरें अक्सर मीडिया में आती थी इसमें वो बुर्के में हथियारों के साथ दिखती थी। व्हाइट विडो की मौत की खबर आने के बाद ब्रिटेन की एजेंसियां इस खबर की सच्चाई का पता लगाने में जुट गई हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.