ब्रिटेन में 90% फ्यूल स्टेशनों में पड़ा सूखा, पेट्रोल की भारी किल्लत से आई मारपीट की नौबत!

ब्रिटेन में फ्यूल स्टेशनों पर सूखा पड़ने की वजह से लोग आपस में झगड़ा कर रहे हैं। सरकार के लिए हालात काबू करना मुश्किल हो रहा है।

petrol shortage
ब्रिटेन में 90% फ्यूल स्टेशनों में सूखा पड़ गया है। (फोटो सोर्स- AP)

ब्रिटेन में पेट्रोल की भारी किल्लत हो गई है। कई लोगों को इस बात पर पहली बार में विश्वास नहीं होगा, लेकिन ये खबर पूरी तरह सच है। ब्रिटेन के 90 फीसदी पेट्रोल पंप सूखे पड़े हैं। ऐसे में जिन जगहों पर फ्यूल मिल रहा है, वहां भीड़ को काबू करना बहुत मुश्किल हो रहा है।

जिन पेट्रोल पंप पर सप्लाई चालू है, वहां हालात नियंत्रण में नहीं हो पा रहे हैं और भीड़ बेकाबू हो गई है। ऐसे में ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन सेना की मदद लेने पर विचार कर रहे हैं।

कहा जा रहा है कि अगर हालात काबू में नहीं आए तो फ्यूल स्टेशनों पर सेना के जवान तैनात किए जाएंगे। ऐसा इसलिए भी है क्योंकि वहां की पुलिस हालात पर काबू नहीं कर पा रही है।

ब्रिटेन में पेट्रोल की किल्लत की सबसे बड़ी वजह ट्रक ड्राइवरों की कमी के रूप में सामने आई है। ड्राइवर ना होने की वजह से सप्लाई चेन पर बुरा असर पड़ा है और रिफाइनरी से फ्यूल स्टेशनों तक तेल नहीं पहुंच रहा है।

इसका नतीजा ये निकला है कि फ्यूल स्टेशनों के बाहर लंबी लाइनें लगी हुई हैं और लोग एक-दूसरे से झगड़ा कर रहे हैं। इस बीच सरकार का कहना है कि समस्या को देखते हुए हम ट्रक ड्राइवर्स को अस्थाई वीजा जारी कर सकते हैं। इससे ड्राइवरों की कमी को दूर किया जा सकेगा।

बता दें कि सरकार ने रविवार को घोषणा की थी कि हमारी योजना 5 हजार विदेशी ट्रक ड्राइवरों को अस्थाई वीजा जारी करने की है।

बता दें कि ब्रिटेन में पैदा हुए इस फ्यूल संकट के लिए ब्रेक्जिट (ब्रिटेन के यूरोपीय संघ से बाहर निकलने की व्यवस्था) को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है। वहीं सरकार का मानना है कि ये महामारी की वजह से पैदा हुई समस्या है। सरकार का कहना है कि वह लॉन्ग टर्म में इंवेस्टमेंट के जरिए इस समस्या का हल निकाल लेगी।

पढें अंतरराष्ट्रीय समाचार (International News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट