ताज़ा खबर
 

पाकिस्तानः आतंकी हाफिज सईद के घर के पास धमाका, चार की मौत, 20 गंभीर

लाहौर के कैपिटल सिटी पुलिस ऑफिसर गुलाम महमूद डोगर ने मीडिया को बताया कि, "घटना के तुरंत बाद मौके पर बम डिस्पोजल टीम और जांच अधिकारी पहुंच गए और बम विस्फोट की वजह को पता करने में जुट गए हैं। अभी तक यह नहीं पता चल पाया है कि वहां पर बम किसने रखा था।"

पाकिस्तान के लाहौर शहर में बुधवार को एक बम विस्फोट में चार लोगों की मौत हो गई, 20 लोग घायल हैं। (फोटो- सोशल मीडिया)

पाकिस्तान के लाहौर में बुधवार को मुंबई हमले के मुख्य साजिशकर्ता और जमात-उद-दावा प्रमुख हाफिज सईद के घर के बाहर हुए जबरदस्त कार बम धमाके में चार लोगों की मौत हो गई जबकि 20 अन्य घायल हुए हैं। पुलिस ने यह जानकारी दी।

पुलिस के मुताबिक, जौहर टाउन की बीओआर सोसायटी में सईद के घर के बाहर स्थित पुलिस जांच चौकी पर बम धमाका हुआ। उन्होंने कहा कि घायलों को जिन्ना अस्पताल ले जाया गया है, जहां छह लोगों की हालत नाजुक बनी हुई है। पंजाब पुलिस के प्रमुख इनाम घनी ने कहा कि अगर जानी-मानी हस्ती के घर के बाहर कोई पुलिस चौकी नहीं होती तो इस घटना में ‘बड़ा नुकसान’ हो सकता था। उनका इशारा सईद की ओर था।

संवाददाताओं से पंजाब के पुलिस महानिरीक्षक इनाम घनी ने कहा कि कार बम धमाके में चार लोगों की मौत हुई है और 20 अन्य घायल हुए हैं। घनी ने इसे “आतंकी” घटना करार देते हुए कहा, “कार में विस्फोटक सामग्री रखी गई थी। जिसका ‘टॉरगेट’ उसके घर के बाहर पुलिस चौकी था। कार पुलिस चौकी को पार नहीं कर सकी।” उन्होंने कहा कि आतंकवाद रोधी विभाग (सीटीडी) के अधिकारी धमाका स्थल पर पहुंचकर सभी पहलुओं को ध्यान में रख कर मामले की जांच कर रहे हैं।

जिन्ना अस्पताल के डॉ याह्या सुल्तान ने कहा कि घायलों में पुलिसकर्मी तथा आम लोग भी शामिल हैं। अस्पताल में भर्ती कराए गए 17 घायलों में से छह की हालत नाजुक है। उनका सघन चिकित्सा कक्ष में रखकर इलाज किया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक, यह बेहद शक्तिशाली धमाका था, जिसके चलते इलाके के कई घरों, दुकानों और वाहनों को नुकसान पहुंचा। धमाके के कारण एक मकान की छत भी ढह गई। धमाके के बाद अफवाह फैली कि घटना के समय सईद घर में ही मौजूद था। उल्लेखनीय है कि आतंकवाद के वित्तपोषण मामले में दोषी 71 वर्षीय सईद लाहौर की कोट लखपत जेल में सजा काट रहा है।

लाहौर के कैपिटल सिटी पुलिस ऑफिसर गुलाम महमूद डोगर ने मीडिया को बताया कि, “घटना के तुरंत बाद मौके पर बम डिस्पोजल टीम और जांच अधिकारी पहुंच गए और बम विस्फोट की वजह को पता करने में जुट गए हैं। अभी तक यह नहीं पता चल पाया है कि वहां पर बम किसने रखा था।” इस बीच पंजाब प्रांत के मुख्य मंत्री उस्मान बजदर ने अधिकारियों से घटना की रिपोर्ट मांगी है और निर्देश दिया कि जो भी दोषी हों, उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि इस घटना में घायलों को तुरंत चिकित्सा उपलब्ध कराई जाए।

आंतरिक विभाग के मंत्री शेख राशिद ने भी पंजाब के मुख्य सचिव और आईजी से बात कर घटना की रिपोर्ट मांगी है। उन्होंने घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य की कामना की है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Next Stories
1 म्यांमार की मिलिट्री का प्रोपेगंडा फैलाता है फेसबुक, तख्तापलट के विरोधियों के खिलाफ हिंसा को भी देता है बढ़ावा: रिपोर्ट
2 जिन्हें टीका नहीं चाहिए वो भारत चले जाएं, फिलीपींस के राष्ट्रपति की नागरिकों को धमकी- जेल में डाल देंगे
3 नेपाल में गहराया राजनीतिक संकट, सुप्रीम कोर्ट ने पीएम केपी ओली के 20 कैबिनेट मंत्रियों की नियुक्ति की रद्द
ये पढ़ा क्या?
X