ताज़ा खबर
 

टॉयलेट में मोबाइल गेम खेल रहा था, शरीर से बाहर आ गया अंग

शख्स टॉयलेट में काफी देर तक मोबाइल पर गेम खेलता रहा, इस दौरान उसके शरीर का एक अंग बाहर निकल गया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक करीब आधा घंटे तक मोबाइल पर गेम खेलने वाले शख्स को रेक्टल प्रोलैप्स से गुजरना पड़ा।
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है।

चीन के बीजिंग में एक अजीब मेडीकल केस सामने आया है। एक शख्स टॉयलेट में काफी देर तक मोबाइल पर गेम खेलता रहा, इस दौरान उसके शरीर का एक अंग बाहर निकल गया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक करीब आधा घंटे तक मोबाइल पर गेम खेलने वाले शख्स को रेक्टल प्रोलैप्स से गुजरना पड़ा। रेक्टल प्रोलैप्स दरअसल वह अवस्था होती है जब लार्ज इंटेस्टाइन (बड़ी आंत) के आखिर में जुड़ा रेक्टम (मलाशय) अपनी पकड़ खो देता है और मलद्वार से बाहर निकल जाता है। डेलीमेल के खबर के मुताबिक इस गंभीर समस्या से पीड़ित होने पर शख्स को अस्पताल ले जाया गया। डाक्टरों को गेंद के आकार का 16 सेंटीमीटर का उसका रेक्टम सर्जरी कर निकालना पड़ा। फिलहाल मरीज डॉक्टरों की देखरेख में है। डॉक्टरों ने बताया कि जब मरीज 4 चार वर्ष का था, तब उसे इस समस्या से गुजरना पड़ा था, लेकिन तब रेक्टम अपनी सामान्य स्थिति में फिर से आ गया था।

अस्पताल के एक डॉक्टर सु डैन ने कन कन न्यूज को बताया कि इस समस्या के ज्यादातर मामलों में रेक्टम अपने आप अपनी सामान्य स्थिति में आ जाता है, जैसा कि इस शख्स के साथ नहीं हुआ। अगर ऐसी स्थिति में समय पर इलाज न किया जाए तो हालत खराब हो जाती है। साउथ चाइना में अस्पताल के हवाले से लिखा गया कि शख्स जब बच्चा था, तब इस समस्या से ग्रसित हुआ था। लेकिन लंबे समय तक उसने इसे गंभीरता से नहीं लिया और अपनी टॉयलेट की आदतों में सुधार नहीं किया। उसे आधुनिक जमाने की टायलेट सीट पर लंबे समय तक बैठकर मोबाइल पर गेम खेलने की भी आदत है।

अमेरिकन सोसाइटी ऑफ कोलन एंड रेक्टल सर्जन्स (एएससीआरएस) के अनुसार 1 लाख लोगों में 2 को ऐसी समस्या होती है और ऐसे 2 तिहाई मरीजों को पुराने कब्ज की शिकायत रहती है। आमतौर पर बुजुर्ग महिलाओं को ऐसी स्थिति से गुजरना पड़ता है, लेकिन यह समस्या किसी भी उम्र के पुरुष और महिलाओं को हो सकती है। इस समस्या के पीछे निश्चित तौर पर क्या कारण हो सकता है, इस बारे में डॉक्टरों का भी कोई दावा नहीं है। लेकिन माना जाता है कि मलत्याग के समय ज्यादा जोर देना, सर्जरी या बच्चे को जन्म देने के दौरान टिश्यु डैमेज (कोशिका नुकसान) होना आदि इस समस्या के कारण हो सकते हैं। स्वास्थ्य विशेषज्ञों की सलाह है कि पुराने कब्ज से पीड़ित लोगों को फलों का सेवन जरूर करना चाहिए, ताकि ऐसी समस्या से बचाव किया जा सके।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.