ताज़ा खबर
 

स्नोडेन को माफ नहीं करेंगे ओबामा

33 साल स्नोडेन पर जासूसी कानून का उल्लंघन करने, राष्ट्रीय सुरक्षा एजंसी के इंटरनेट और फोन सर्विलांस के बारे में गोपनीय आंकड़े मीडिया को जारी करने के लिए सरकारी संपत्ति चोरी करने का आरोप है।

Author वाशिंगटन | September 16, 2016 3:49 AM
अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा। (REUTERS/Yuri Gripas/File)

व्हाइट हाउस ने कहा है कि गोपनीय सरकारी दस्तावेजों को लीक करने वाला पूर्व सीआइए कॉट्रैक्टर एड्वर्ड स्नोडेन व्हिसलब्लोअर नहीं है बल्कि वह ऐसा व्यक्ति है जिसने अमेरिका के लोगों व राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे में डाला। इसके साथ ही व्हाइट हाउस ने राष्ट्रपति बराक ओबामा का कार्यकाल पूरा होने से पहले स्नोडेन को उनसे माफी मिलने की उम्मीद भी खत्म कर दीं। व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव जोश अर्नेस्ट ने कहा कि एड्वर्ड स्नोडेन व्हिसलब्लोअर नहीं है। उन्होंने कहा कि दरअसल अच्छी तरह से स्थापित और पूरी तरह से सुरक्षित एक विशेष प्रक्रिया है, जो व्हिसलब्लोअर को विशेष रूप से गोपनीय सूचनाओं संबंधी चिंताएं व्यक्त करने की अनुमति देती है। यह ऐसे तरीके से किया जाता है जिससे अमेरिका की राष्ट्रीय सुरक्षा संबंधी गुप्त सूचनाएं सुरक्षित रहें, लेकिन स्नोडेन ने ऐसा नहीं किया। प्रेस सचिव ने बुधवार को प्रेस कांफ्रेस में कहा कि उसने अपने इस आचरण से अमेरिकी लोगों की जिंदगी खतरे में डाली है और इससे अमेरिका की राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा पैदा हुआ। इसलिए ओबामा प्रशासन की नीति है कि स्नोडेन को अमेरिका वापस आ जाना चाहिए और अपने ऊपर लगे आरोपों का सामना करना चाहिए।

33 साल स्नोडेन पर जासूसी कानून का उल्लंघन करने, राष्ट्रीय सुरक्षा एजंसी के इंटरनेट और फोन सर्विलांस के बारे में गोपनीय आंकड़े मीडिया को जारी करने के लिए सरकारी संपत्ति चोरी करने का आरोप है। अमेरिका में दोषी पाए जाने पर उन्हें कम से कम 30 साल की सजा होगी। वह जून 2013 से रूस में अज्ञात जगह पर निर्वासन में रह रहे हैं। अर्नेस्ट ने कहा कि निश्चित रूप से उन्हें वे अधिकार दिए जाएंगे, जो हमारी आपराधिक न्यायिक प्रणाली में हर अमेरिकी नागरिक को दिए जाते हैं लेकिन हमें लगता है कि उन्हें अमेरिका वापस आ जाना चाहिए। आरोपों का सामना करना चाहिए। एक सवाल के जवाब में व्हाइट हाउस के अधिकारी ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति और स्नोडेन के बीच किस प्रकार की बातचीत नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि मुझे अमेरिकी राष्ट्रपति और स्नोडेन के बीच किसी प्रकार के संवाद अथवा बातचीत के संबंध में कोई जानकारी नहीं है। अमेरिका ने स्नोडेन के खिलाफ जासूसी करने और सरकारी संपत्ति की चोरी करने के आरोप लगाए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App