ताज़ा खबर
 

आईएस विरोधी लड़ाई में मुस्लिम-अमेरिकी ‘सबसे अहम’ साझेदार: ओबामा

बराक ओबामा ने कहा, ‘‘ऐसे प्रयास (मुस्लिम विरोधी) हमारे स्वभाव, हमारे मूल्यों और धार्मिक स्वतंत्रता के विचार पर बने राष्ट्र के तौर पर हमारे इतिहास के विपरीत हैं।

Author वॉशिंगटन | Published on: March 26, 2016 8:04 PM
अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा (एपी फाइल फोटो)

राष्ट्रपति पद की रिपब्लिकन उम्मीदवारी के दावेदारों डोनाल्ड ट्रंप और टेड क्रूज पर परोक्ष हमला करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने शनिवार (26 मार्च) को अपने देश के मुसलमानों को आईएसआईएस के खिलाफ लड़ाई में ‘सबसे महत्पपूर्ण’ साझेदार करार दिया और इस बात पर जोर दिया कि इस समुदाय को कलंकित करने के प्रयासों को खारिज किया जाना चाहिए। ओबामा ने अपने साप्ताहिक वेब एवं रेडियो संबोधन में कहा, ‘‘आईएसआईएल के नफरत भरे और हिंसक दुष्प्रचार के खिलाफ लड़ाई जीतने की हमारी प्रतिबद्धता है। यह संगठन इस्लाम के विचारों को विकृत रूप को पेश करता है जिसका मकसद नौजवान मुसलमानों को कट्टरपंथी बनाना है।’’

ट्रंप और क्रूज की ओर से हाल ही दिए गए मुस्लिम विरोधी बयानों का परोक्ष संदर्भ देते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘इस प्रयास में अमेरिकी मुसलमान हमारे मुख्य साझेदार हैं। इसलिए हम अमेरिकी मुसलमानों एवं हमारे देश के लिए उनके योगदान को कलंकित करने के किसी भी प्रयास को खारिज करते हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ऐसे प्रयास (मुस्लिम विरोधी) हमारे स्वभाव, हमारे मूल्यों और धार्मिक स्वतंत्रता के विचार पर बने राष्ट्र के तौर पर हमारे इतिहास के विपरीत हैं। इसके विपरीत परिणाम भी होते हैं।’’

ब्रसेल्स आतंकी हमलों का उल्लेख करते हुए ओबामा ने कहा कि बेल्जियम अमेरिका का नजदीकी दोस्त है और आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में वाशिंगटन उसके साथ है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories