ताज़ा खबर
 

ओबामा को उम्मीद, अगला राष्ट्रपति भारत-अमेरिका संबंधों को आगे ले जाएगा: व्हाइट हाउस

व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव जोश अर्नेस्ट ने कहा, ‘राष्ट्रपति ओबामा के एशिया पुनर्संतुलन में दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र (भारत) के साथ अमेरिका के संबंधों को प्राथमिकता बनाना शामिल है।'
Author वॉशिंगटन | July 29, 2016 11:45 am
अमेरिकी राष्ट्रपति का आधिकारिक निवास स्थान ‘व्हाइट हाउस’

अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा को उम्मीद है कि उनके बाद देश के शीर्ष पद को संभालने वाला व्यक्ति भारत के साथ अमेरिका के संबंधों को आगे लेकर जाएगा। व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव जोश अर्नेस्ट ने गुरुवार (28 जुलाई) को अपने दैनिक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘राष्ट्रपति ओबामा के एशिया पुनर्संतुलन में दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के साथ अमेरिका के संबंधों को प्राथमिकता बनाना शामिल है।’उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि यह अमेरिका एवं भारत के साथ लंबे गर्मजोशी भरे संबंधों का संकेत है। यह राजनयिक पूंजी के उस निवेश का भी परिणाम है जो राष्ट्रपति ओबामा ने इस संबंध में किया है।’

अर्नेस्ट ने कहा कि राष्ट्रपति को उम्मीद है कि उनके बाद राष्ट्रपति बनने वाला व्यक्ति भी यही काम करेगा क्योंकि इससे अमेरिका के लोगों, हमारी अर्थव्यवस्था और निश्चित ही हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा को लाभ होता है। उन्होंने एक प्रश्न के उत्तर में कहा, ‘राष्ट्रपति ओबामा कई बार भारत गए हैं और वहां हर यात्रा में भारतीय लोगों ने गर्मजोशी से उनका स्वागत किया है। मैं जानता हूं कि उन्हें हर यात्रा में आनंद आया।’अर्नेस्ट ने कहा कि दोनों देशों के नेताओं के बीच प्रभावशाली कार्य संबंधों की ओबामा सराहना करते हैं।

उन्होंने कहा, ‘निस्संदेह, व्हाइट हाउस में अपने पहले व्हाहट हाउस राजकीय भोज के दौरान राष्ट्रपति और उनकी पत्नी ने मनमोहन सिंह एवं उनकी पत्नी की मेजबानी की। राष्ट्रपति ओबामा पेरिस जलवायु वार्ता के संदर्भ में भारत की प्रतिबद्धताओं को लेकर एक समझौते तक पहुंचने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मिलकर प्रभावशाली तरीके से काम करने में सफल रहे।’ अर्नेस्ट ने कहा, ‘कई लोगों ने इसे पेरिस में समझौता पूरा होने की मुख्य वजह बताया।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.