ताज़ा खबर
 

ढाका में सबसे बड़ेे आतंकी हमलेे में मारे गए 20 लोग, 12 घंटे बाद 6 आतंकी ढेर

भारी हथियारों से लैस बांग्लादेशी कमांडो ने इस रेस्तरां पर धावा बोला और इस्लामिक स्टेट के आतंकवादियों को मार गिराया।

Author ढाका | Updated: July 2, 2016 1:31 PM
बांग्लादेश की राजधानी ढाका के उच्च सुरक्षा वाले राजनयिक क्षेत्र के एक रेस्तरां में चल रहा बंधक संकट खत्म हो गया। (photo: AP)

बांग्लादेश की राजधानी ढाका के उच्च सुरक्षा वाले राजनयिक क्षेत्र के एक रेस्तरां में चल रहा बंधक संकट खत्म हो गया। भारी हथियारों से लैस बांग्लादेशी कमांडो ने इस रेस्तरां पर धावा बोला और इस्लामिक स्टेट के आतंकवादियों को मार गिराया। वहीं 20 लोगों की भी मौत हो गए। इस रेस्तरां में विदेशी नागरिकों सहित कई लोगों को 12 घंटे से अधिक समय तक बंधक बनाकर रखा गया था। सुबह करीब 7:40 बजे (स्थानीय समयानुसार) उस वक्त गोलीबारी और विस्फोट की आवाज सुनी गई जब ढाका के गुलशन राजनयिक क्षेत्र के होले आर्टिजन बेकरी में बंधक संकट को खत्म करने के लिए कमांडो ने अभियान शुरू किया। कैफे पर धावा बोलने वाली विशिष्ट सुरक्षा इकाई रैपिड ऐक्शन बटालियन (आरएबी) के कमांडो तुहीन मोहम्मद मसूद ने बताया कि कई लोग हताहत हुए हैं जिनमें छह हमलावर शामिल हैं।

मसूद ने कहा, ”हमने छह आतंकवादियों को मार गिराया है।” एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि रेस्तरां से कुल 18 लोगों को बचाया गया। ढाका मेट्रोपोलिटन पुलिस के उपायुक्त मोहम्मद जशीम ने कहा कि रेस्तरां से बचाए गए लोगों में भारतीय, श्रीलंकाई और जापानी नागरिक हैं। आरएबी के एक अधिकारी ने कहा कि कम से कम छह शव बरामद किए गए हैं, हालांकि उन्होंने इसकी पुष्टि नहीं की है कि ये शव बंधकों के हैं या बंदूकधारियों के हैं। लोगों को बंधक बनाए जाने के बाद हमलावरों और पुलिस के बीच शुक्रवार रात गोलीबारी हुई जिसमें कम से कम दो वरिष्ठ अधिकारियों की मौत हो गई और 40 लोग घायल हो गए।

ढाका में आतंकी हमला: ISIS को आगे कर ISI चल रहा चाल, जमात कर रहा मदद

जिहादी गतिविधियों पर ऑनलाइन नजर रखने वाले अमेरिका आधारित एसआईटीई खुफिया समूह ने बताया कि आतंकी गुट इस्लामिक स्टेट ने इस हमले के करीब चार घंटे बाद अपनी समाचार एजेंसी अमाक के माध्यम से इसकी जिम्मेदारी ली। अमाक ने यह भी दावा किया कि हमले में 20 लोग मारे गए हैं। होले आर्टिजन बेकरी में कम से कम नौ आतंकवादी ”अल्लाहू अकबर” चिल्लाते हुए घुसे और उन्होंने स्थानीय समयानुसार कल रात करीब नौ बजकर 20 मिनट पर अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी। इस रेस्तरां में अक्सर राजनयिक और विदेशी नागरिकों का आना जाना रहता है। सेना प्रमुख जनरल शफी उल हक कमांडो अभियान पर नजर रख रहे हैं।

Dhaka: चश्‍मदीद बोले- अल्‍लाह हू अकबर के नारे लगा घुसे हमलावर, रातभर चली गोलियां

अभियान शुरू होने से पहले बख्तरबंद वाहनों को लाया गया और विभिन्न कानून प्रवर्तन एजेंसियों के विशेष बलों को रेस्तरां के आस पास पोजिशन लेते देखा गया। सुरक्षा अधिकारियों ने पड़ोस में रहने वाले लोगों को घरों में रहने का निर्देश जारी किया था। इस बीच, स्थानीय मीडिया की रिपोर्टों के अनुसार बंधकों में शामिल बताई जा रही एक किशोर भारतीय लड़की के पिता ने अधिकारियों से वार्ता प्रक्रिया तेज करने की अपील की है ताकि उनकी बेटी को सुरक्षित छुड़ाया जा सके। एंबुलेंसों को गुलशन रोड से आते देखा गया जिनमें घायल हुए बंधक थे। प्रत्यक्षदर्शियों एवं मीडिया रिपोर्टों में बताया गया है कि बचाए गए लोगों की संख्या 13 है। एक पुलिस अधिकारी ने अपना नाम नहीं बताने की शर्त पर बताया कि बचाए गए लोगों में दो विदेशी नागरिक हैं।

14 घंटे बाद ढाका बंधक संकट समाप्‍त, 6 आतंकी मारे गए, 18 लोग रिहा

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X