ताज़ा खबर
 

बांग्लादेश: शिया मस्जिद में विस्फोट के संबंध में तीन गिरफ्तार

बांग्लादेश की पुलिस ने शिया समुदाय को निशाना बनाकर यहां हुए बम विस्फोट के संबंध में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। इस्लामिक स्टेट ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी..

Author ढाका | October 26, 2015 1:00 AM
इस घटना में 12 साल के एक लड़के की मौत हुई थी और खतरनाक आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी। (एपी फोटो)

बांग्लादेश की पुलिस ने शिया समुदाय को निशाना बनाकर यहां हुए बम विस्फोट के संबंध में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। इस घटना में 12 साल के एक लड़के की मौत हुई थी और खतरनाक आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी।

ढाका पुलिस के सहायक उपायुक्त संजीब कुमार राय ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘विस्फोट के बाद तीन लोगों को हिरासत में लिया गया और उन्हें पूछताछ के लिए खुफिया शाखा को सौंपा गया।’’

ढाका में शिया समुदाय की मुख्य मस्जिद हुसैनी दालान के सामने जुलूस को निशाना बनाकर शनिवार को हुए विस्फोट में एक लड़के की मौत हो गई थी जबकि करीब 90 अन्य घायल हुए थे। पुलिस ने बम विस्फोट के लिए अज्ञात लोगों के खिलाफ कड़े आतंकवाद निरोधक कानून के तहत मामला दर्ज किया। पुलिस को संदेह है कि हुसैनी दालान पर हमला उसी समूह ने किया है जिसने राजधानी में तीन दिन पहले एक पुलिस अधिकारी की हत्या की थी।

कानून प्रवर्तन एजेंसिंयों ने अधिकारी की हत्या वाले स्थल से गिरफ्तार एक संदिग्ध से पूछताछ की जिसके बाद पुलिस प्रमुख एकेएम शाहिदुल हक ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘अब हमारे पास यह भरोसा करने के कारण हैं कि हमला और हमारे एएसआई की हत्या की आपस में संबंध है।’’

उन्होंने इससे पहले कहा था कि उन्होंने एएसआई की हत्या के संबंध में हिरासत में लिये गये संदिग्ध से मिले सुराग के आधार पर ढाका के कामरानगीरचार क्षेत्र से बमों और विस्फोटकों का जखीरा जब्त किया है। हक ने कहा, ‘‘विस्फोटक शिया जुलूस पर हमले में प्रयुक्त विस्फोटक जैसा है।’’

जांच से जुड़े एक अन्य पुलिस अधिकारी ने कहा कि उन्होंने एएसआई हत्या के संबंध में 31 लोगों का पता लगाया है जिनमें से कुछ पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया की बीएनपी और इसके महत्वपूर्ण सहयोगी संगठन चरमपंथी जमात ए इस्लामी के सदस्य हैं।

अधिकारी ने कहा, ‘‘अब हम शियाओं पर हमले तथा पुलिस अधिकारी की हत्या के बीच संबंध की पुष्टि का प्रयास कर रहे हैं।’’

गृह मंत्री असदुज्जमां खान कमाल ने संवाददाताओं से कहा कि कुछ समूह ‘गलत मंशा’ के साथ हुसैनी दालान विस्फोट मामले को इस्लामिक स्टेट से जोड़ने का प्रयास कर रहे हैं। इससे पहले भी इन समूहों ने दो विदेशियों की रहस्यमयी हत्याओं के बाद भी ऐसा किया था।

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘जब कभी कुछ भी होता है आईएस के नाम से बयान जारी किये जाते हैं। यह एक अलग मंशा के साथ दुष्प्रचार हो सकता है। हम जांच कर रहे हैं… लेकिन हम साजिश के शिकार हैं। हो सकता है कि कुछ अन्य आतंकी यह कर रहे हों।’’

अमेरिका और ब्रिटेन के राजदूतों के बाद ढाका में यूरोपीय संघ के राजदूत पीएरे मायोदन ने बांग्लादेश से रविवार को पूरी जांच सुनिश्चित करने तथा हमलावरों के खिलाफ कार्रवाई करने का अनुरोध किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App