ताज़ा खबर
 

बांग्लादेश: सबसे बड़े हिंदू मंदिर के लिए पीएम शेख हसीना ने दी 43 करोड़ रुपये की जमीन

शेख हसीना बांग्लादेश के सबसे बड़े मंदिर ढाकेश्वरी पहुंचीं थीं। इसी दौरान उन्होंने मंदिर को करीब 50 करोड़ टका (43 करोड़ रुपये) की कीमत की जमीन देने की घोषणा की।

शेख हसीना बांग्लादेश के सबसे बड़े मंदिर ढाकेश्वरी पहुंची थीं । (फोटो सोर्स : Indian Express)

हिंदू विरोधी होने के आरोप झेलने के बावजूद बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने हिंदुओं को बड़ा तोहफा दिया है। दुर्गा पूजा के मौके पर हसीना ने एक मंदिर को डेढ़ बीघा जमीन दान में दी है। देश के सबसे बड़े मंदिर में सोमवार को पहुंची हसीना ने करोड़ों की जमीन दान में दी। हसीना के इस फैसले को इस्लामिक देश बांग्लादेश में अल्पसंख्यकों की पक्षधर होने की कोशिश के तौर पर देखा जा रहा है।

शेख हसीना सोमवार को बांग्लादेश के सबसे बड़े मंदिर ढाकेश्वरी पहुंचीं। इसी दौरान उन्होंने मंदिर को करीब 50 करोड़ टका (43 करोड़ रुपये) की कीमत की जमीन देने की घोषणा की। ढाका का नाम भी ढाकेश्वरी देवी के नाम पर है। इसकी मांग बीते 60 साल से हो रही थी।

ईटी की खबर के मुताबिक, बीते काफी वक्त से मंदिर की काफी जमीन पर कब्जा था, लेकिन कुछ समय पहले ही हसीना के निर्देश में, सरकार ने एक अग्रीमेंट की मध्यस्थता करने के बाद जमीन मंदिर को सौंपने का फैसला हुआ।

बांग्लादेश सरकार ने कहा, ‘बांग्लादेश में आवामी लीग के शासन ने सिर्फ विकास ही किया है। बीती एक शताब्दी से देश में इसका इंतजार था।’ उन्होंने कहा, ‘ देश में बेहतर सुरक्षा व्सवस्था के चलते ही न सिर्फ अल्पसंख्यक बल्कि पूरे देश के लोग सुरक्षित महसूस करते हैं।’

आगे कहा, हसीना सरकार के स्लोगन ‘धोर्मो जारजार, उत्सोब शोबार’ (धर्म किसी का भी व्यक्तिगत अधिकार है, लेकिन त्योहार सबसे जुड़ा है) का पालन हर हाल में किया जातात है। इसके चलते ही बीते साल देश में 30 हजार से ज्यादा शांतिपूर्वक दुर्गा पूजा उत्सव हुए। इस साल 31,272 उत्सव हुए।

इस साल के आखिर में बांग्लादेश में संसदीय चुनाव होने हैं। देश में हिंदू अल्पसंख्यक हैं। सत्ता संभाल रही आवामी लीग की स्थापना के समय से ही हिंदुओं का समर्थन इस पार्टी को है। इस लिहाज से शेख हसीना का मंदिर को जमीन दान करने का फैसला अहम माना जा रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App