ताज़ा खबर
 

राजनीतिक शरण के लिए भारत पहुंचे बलदेव कुमार के दावे को भाई ने झुठलाया

बलदेव कुमार को अप्रैल 2018 के आखिर में बुनेर आतंकवाद विरोधी कोर्ट ने बरी कर दिया और उसी साल मई में उन्हें विधायक के तौर शपथ ली। मगर आम चुनाव कराने के एक दिन बाद विधानसभा भंग कर दी गई।

Author नई दिल्ली | Published on: September 12, 2019 3:35 PM
पाकिस्तान में प्रांतीय सरकार के पूर्व विधायक बलदेव कुमार। (ani)

पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के पूर्व विधायक बलदेव कुमार ने भारत सरकार से उन्हें राजनीतिक शरण देनी की मांग की है। तीन महीने के वीजा पर भारत पहुंचे कुमार ने आरोप लगाया कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के साथ अच्छा व्यवहार नहीं किया जाता। स्वात घाटी के बारिकोट के सिख समुदाय के बलदेव को करीब 36 घंटे तक विधायक रहने का गौरव प्राप्त है। हालांकि उन्हें मुख्यमंत्री के विशेष सलाहकार सोरन सिंह की हत्या के आरोप में साल 22 अप्रैल, 2016 को गिरफ्तार किया गया था।

पाकिस्तान के अंग्रेजी अखबार द डॉन में छपी एक खबर के मुताबिक कुमार को अप्रैल 2018 के आखिर में बुनेर आतंकवाद विरोधी कोर्ट ने बरी कर दिया और उसी साल मई में उन्हें विधायक के तौर शपथ ली। मगर आम चुनाव कराने के एक दिन बाद विधानसभा भंग कर दी गई।

इसी बीच बलदेव कुमार के भाई और स्वात घाटी में गैर मुस्लिम समुदाय के सदस्य तलक कुमार ने उन सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया जो भारत पहुंचे बलदेव कुमार ने मीडिया के हवाले से पाकिस्तान सरकार पर लगाए। तहसील पार्षद रह चुके तलक कुमार ने भाई के सभी आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए कहा, ‘आरोप ना सिर्फ अजीब हैं बल्कि तर्कहीन भी हैं। चूंकि हम यहां पैदा हुए और खुशी से अपने परिवार के साथ रह रहे हैं। हम व्यापार कर रहे हैं और सरकारी विभागों में प्रमुख पदों पर काम भी कर रहे हैं।’

अखबार ने तलक कुमार के हवाले से दावा किया, ‘देश सिख सहित अल्पसंख्यक समुदाय के लोग पाकिस्तान में सुरक्षा का आनंद ले रहे हैं।’ उन्होंने कहा कि स्वात, बुनेर और शांगला में पूरी आजादी के आजादी के साथ सिख समुदाय रह रहा है। उन्होंने पाकिस्तान के प्रति अपनी देशभक्ति दिखाते हुए कहा कि युद्ध की स्थिति में पाकिस्तानी सिख सबसे आगे खड़े मिलेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 कुलभूषण जाधव के काउंसलर एक्सेस पर पलटा पाकिस्तान, भारत बोला- फिर जाएंगे ICJ
2 कांगों में भारतीय सेना का अफसर लापता, सर्च अभियान जारी, यूएन की तरफ से थी तैनाती
3 पाकिस्तान के गृहमंत्री ने माना, ‘कश्मीर पर दुनिया हमें नहीं सुन रही, लोगों का हम पर नहीं विश्वास’