scorecardresearch

Earthquake: दक्षिण सैंडविच द्वीप समूह में महसूस हुए भूकंप के तेज झटके, मापी गई 6.5 तीव्रता

यूरोपियन मेडिटेरिनियन सिस्मोलोजी सेंटर के मुताबिक, सुबह 7 बजे साउथ सैंडविच आईलैंड में भूकंप के झटके महसूस किए गए, जिसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 6.5 मापी गई है।

Earthquake: दक्षिण सैंडविच द्वीप समूह में महसूस हुए भूकंप के तेज झटके, मापी गई 6.5 तीव्रता
प्रतीकात्मक तस्वीर।

साउथ सैंडविच आईलैंड में गुरुवार सुबह भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए हैं। यूरोपियन मेडिटेरिनियन सिस्मोलोजी सेंटर के मुताबिक, सुबह साढ़े 8 बजे भूकंप के झटके महसूस किए गए, जिसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 6.5 मापी गई है। ईएमएससी के मुताबिक, भूकंप का केंद्र दो किलोमीटर नीचे थे।

रॉयटर के मुताबिक, सुबह 8 बजकर 33 मिनट पर भूकंप के तेज झटकों से दक्षिण सैंडविच द्वीप समूह की धरती हिल गई। भूकंप के तेज झटकों के कारण लोग काफी दहशत में हैं। दक्षिण जॉर्जिया की ब्रिटिश ओवरसीज टेरिटरी और दक्षिण सैंडविच द्वीप समूह (SGSSI) दक्षिणी अटलांटिक महासागर में स्थित है। दक्षिण जॉर्जिया और छोटे द्वीपों की एक श्रृंखला जिसे दक्षिण सैंडविच द्वीप समूह के रूप में जाना जाता है, द्वीपों के इस दूरस्थ और दुर्गम समूह को बनाते हैं। दक्षिण जॉर्जिया में बहुत कम गैर-स्थायी आबादी है।

चीन में 6.6 तीव्रता के भूकंप के कारण हुई थी 46 लोगों की मौत

इस महीने की शुरुआत में चीन में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए थे, जिसके कारण 46 लोगों की मौत की खबर थी। यह भूकंप सिचुआन प्रांत में आया था, जिसकी तीव्रता 6.6 मैग्नीयट्यूड दर्ज की गई थी। भूकंप का केंद्र लुडिंग के पास यान शहर था। इस भूकंप के झटके कई किलोमीटर दूर तक महसूस किए गए थे। भूकंप में 100 से अधिक लोग घायल भी हुए थे।

क्यों आता है भूकंप

धरती मुख्यरूप से चार परतों इनर कोर, आउटर कोर, मैनटल और क्रस्ट से बनी है। क्रस्ट और ऊपरी मैन्टल कोर लिथोस्फेयर कही जाती है, जो 7 वर्गों में बंटी हुई है। इन्हें टेक्नीकल प्लेट्स कहते हैं। ये प्लेट्स कभी स्थिर नहीं रहती हैं और लगातार हिलती रहती हैं। जब ये एक दूसरे टकराती हैं तो बड़ी मात्रा में ऊर्जा उत्पन्न होती है और इससे इलाके में हलचल होती है।

अगर भूकंप की तीव्रता 0 से 1.9 मैग्नीट्यूड है तो इसका पता सिर्फ सीज्मोग्राफ से चलता है, यह महसूस नहीं होता। 2 से 2.9 तीव्रत पर हल्की कंपन होती है। 3 से 3.9 तीव्रता के भूकंप से महसूस होता है कि कोई ट्रक आपके नजदीक से गुजरा हो। 4 से 4.9 तीव्रता से खिड़कियां टूट सकती हैं। दीवारों पर टंगी फ्रेम गिर सकती हैं। 5 से 5.9 तीव्रता के भूकंप से फर्नीचर हिल सकता है। 5.9 तीव्रता से ज्यादा का भूकंप खतरनाक हो सकता है। 6 से 6.9 इमारतों की नींव दरक सकती है। इससे ऊपरी मंजिलों को नुकसान पहुंच सकता है। अगर भूकंप 7 से 7.9 तीव्रता का है तो इमारतें गिर जाती हैं। जमीन के अंदर पाइप फट जाते हैं। इसके अलावा, 8 से 8.9 इमारतों सहित बड़े पुल गिर जाते हैं और 9 और उससे ज्यादा तीव्रता का भूकंप पूरी तबाही ला देता है।

पढें अंतरराष्ट्रीय (International News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 29-09-2022 at 10:24:18 am
अपडेट