ताज़ा खबर
 

अरबपति कारोबारी के घर मिलीं नाबालिग लड़कियों की न्यूड फोटोज, पैसे देकर कई बच्चियों से संबंध बनाने का है आरोप

अमेरिका के अरबपति कारोबारी जेफरी एपस्टिन पर नाबालिग लड़कियों के साथ पैसा देकर सेक्स करने का आरोप लगा है। 66 वर्षीय एपस्टिन यदि इस मामले में दोषी पाए जाते हैं तो उन्हें 45 साल की सजा हो सकती है।

अमेरिकी कारोबारी पर नाबालिग लड़कियों का सेक्स नेटवर्क चलाने का आरोप। (फाइल फोटो/AP)

अमेरिका में एक अरबपति कारोबारी पर नाबालिग बच्चियों से जुड़ा सेक्स रैकेट चलाने का मामला सामने आया है। अदालत में सरकारी वकील ने बताया कि आरोपी के घर से नाबालिग बच्चियों की न्यूड फोटोग्राफ मिली है। इसके अलावा बिजनेसमैन पर पैसे देकर नाबालिग बच्चियों के साथ संबंध बनाने का भी आरोप है।

सोमवार को आरोपी 66 वर्षीय जेफरी एस्पटिन को अदालत में पेश किया गया था। यदि बिजनेसमैन को इस मामले दोषी पाया जाता है तो उसे 45 साल तक की सजा हो सकती है। मैनहट्टन में यूएस अटॉर्नी ज्योफ्री बरमन ने कहा, ‘वह अदालत के सामने पेश होने का हकदार है और हमें उस पर अभियोग चलाने पर गर्व है।’

एपस्टिन पर कई नाबालिगों के साथ सेक्स संबंध बनाने (इनमें 14 साल की लड़कियां भी शामिल हैं), नेक्ड मसाज कराने, उन्हें नकद डॉलर का भुगतान करने का आरोप है। इसके अलावा आरोपी कारोबारी ने लड़कियों से अन्य नाबालिग लड़कियों को अपने साथ अपने नेटवर्क में जोड़ने को कहा।

अभियोग में कहा गया, ‘इस तरह उसने न्यूयॉर्क और पाम बीच के कई स्थानों पर नेटवर्क तैयार कर लिया।’ अभियोजन पक्ष के वकील ने कहा कि साल 2002 से 2005 तक एपस्टिन और उसके कर्मचारी सेक्स ट्रैफिकिंग, न्यूयॉर्क सिटी के अपर ईस्ट साइड मैसन और फ्लोरिडा के पाम बीच के घर पर नाबालिग लड़कियों को लाते थे। यहां वह लड़कियों के साथ अश्लील हरकतें करते थे। 66 वर्षीय एपस्टिन हेज फंड मैनेजर रह चुके हैं।

इससे पहले एपस्टिन को शनिवार को न्यू जर्सी में टेटरबोरो एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद फेडरल एजेंट्स ने न्यूयॉर्क सिटी स्थित एपस्टिन के मैंसन की तलाशी ली। यहां तलाशी में नाबालिग लड़कियों की अश्लील तस्वीरें मिलीं। सोमवार को मैनहट्टन फेडरल कोर्ट में दो बार की सुनवाई के दौरान एपस्टिन ने खुद को अपने ऊपर लगे आरोपों में दोषी नहीं माने जाने की बात कही।

करीब एक दशक पहले भी एपस्टिन इसी तरह के आरोपों से बचने में सफल हो गया था। उसने मियामी में फेडरल प्रोसिक्यूटर्स से नॉन-प्रोसिक्यूशन डील कर ली थी। साल 2008 में दो आरोपों में दोषी साबित होने के बाद उसने सिर्फ 13 महीने ही जेल में बिताए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 कश्मीर पर UN ने दी रिपोर्ट, भारत ने जताया विरोध, कहा- झूठ और राजनीति से प्रेरित
2 इंडोनेशिया के तट पर 6.9 तीव्रता का भूकंप, सुनामी की चेतावनी
3 श्रीलंका में बढ़ रही अमीरी, भारत अभी भी लोअर-मिडिल इनकम ग्रुप में- वर्ल्ड बैंक रैंकिंग
ये पढ़ा क्या?
X
Testing git commit