ताज़ा खबर
 

‘आईएसआईएस को हराने के लिए’ अमेरिका ने तैयार किया प्लान, रक्षामंत्री मैटिस ने व्हाइट हाउस को दिया ब्यौरा

प्रेस सचिव जेफ डेविस ने कहा, 'यह सिर्फ इराक और सीरिया के बारे में नहीं, बल्कि पूरे विश्व में आईएसआईएस और अलकायदा जैसे अन्य अंतरराष्ट्रीय हिंसक चरमपंथी संगठनों को हराने के बारे में है।’

Author वॉशिंगटन | February 28, 2017 1:54 PM
अमेरिका के रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस। (REUTERS/Yuri Gripas/6 Feb, 2017)

अमेरिका के रक्षामंत्री जिम मैटिस ने आईएसआईएस को हराने की विस्तृत रणनीति पर ट्रम्प प्रशासन को संक्षेप में जानकारी देते हुए व्हाइट हाउस के समक्ष ‘प्राथमिक योजना’ पेश की है। व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव सीन स्पाइसर ने अपने दैनिक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘आईएसआईएस को हराने के लिये रक्षा विभाग ने आज (मंगलवार, 28 फरवरी) अपनी प्राथमिक योजना पेश की।’ उन्होंने कहा, ‘रक्षा मंत्री मैटिस ने योजना पेश की है। आज पेश विकल्प पर सिद्धांतों को लेकर वह संक्षिप्त जानकारी दे रहे हैं और उनकी प्रतिक्रिया मांग रहे हैं।’ अपनी सिफारिशों पर पूर्ण चर्चा और अन्य सिद्धांतों पर प्रतिक्रिया की मांग सुनिश्चित करना, उनकी योजना का हिस्सा है। एक प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा, ‘इससे हमें यह जानने में मदद मिल सकती है कि यहां से हमें कहां और कैसे जाना है।’

कैमरे की गैर मौजूदगी वाले एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान पेंटागन के प्रेस सचिव जेफ डेविस ने कहा, ‘यह महज एक सैन्य योजना नहीं है। यह राष्ट्रीय शक्ति — कूटनीतिक, वित्तीय, साइबर, खुफिया (और) लोक कूटनीति के सभी तत्वों को रेखांकित करती है और हमारी अंतर एजेंसी सहयोगियों के साथ बेहद करीबी समन्वय से इसका मसौदा तैयार किया जा रहा है।’ डेविस ने कहा, ‘योजना पूरी तरह से अंतरराष्ट्रीय स्तर की है। यह सिर्फ इराक और सीरिया के बारे में नहीं, बल्कि पूरे विश्व में आईएसआईएस और अलकायदा जैसे अन्य अंतरराष्ट्रीय हिंसक चरमपंथी संगठनों को हराने के बारे में है।’ अधिकारियों ने योजना के तहत सूचीबद्ध अन्य देशों या क्षेत्र का नाम नहीं बताया, लेकिन उनकी टिप्पणियों से यह संकेत मिलता है कि इसमें दक्षिण एशिया खासकर अफगानिस्तान, पाकिस्तान और बांग्लादेश में पांव पसारते आईएसआईएस की चुनौती का भी समाधान शामिल है।

‘इस्लामिक स्टेट को अमेरिका खदेड़ देगा और उसकी जड़ तक को मिटा देगा’

अमेरिका के उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने कहा है कि अमेरिका आतंकवादी समूह इस्लामिक स्टेट को खदेड़ देगा और उनका समूल नाश कर देगा ताकि वह उनके देश और देशवासियों के लिये खतरा नहीं पैदा कर सके। वॉशिंगटन में गुरुवार (23 फरवरी) को आयोजित कंजर्वेटिव पॉलिटिकल एक्शन कॉन्फ्रेंस (सीपीएसी) में अपने संबोधन में पेंस ने कहा, ‘हमलोग आईएसआईएस को खदेड़ देंगे और उनके स्रोत का समूल नाश कर देंगे ताकि वह हमारे देश या हमारे परिवारों के लिये खतरा पैदा नहीं कर सके।’ उन्होंने कहा, ‘हम अमेरिकी सेना का पुनर्निर्माण शुरू करने जा रहे हैं। हमलोग लोकतंत्र के शस्त्रागार का पुनर्निर्माण करेंगे। हम अपने सैनिकों, नौसैनिकों, वायुसैनिकों, मरीन और तटरक्षकों को संसाधान उपलब्ध करायेंगे और उनके मिशन को पूरा करने एवं घर सुरक्षित लौटने के लिये जरूरी प्रशिक्षण उपलब्ध करायेंगे।’

पेंस ने कहा कि ट्रम्प प्रशासन कामकाजी परिवारों, छोटे कारोबारियों और किसान परिवारों के लिये टैक्स में कटौती कर एक बार फिर देश की अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाने जा रहा है। पेंस ने कहा, ‘हमलोग नौकरियां खत्म करने वाले नियमों को हटा रहे हैं और बराक ओबामा के हस्ताक्षर वाले असंवैधानिक शासकीय आदेशों को रद्द करने जा रहे हैं।’ वहां मौजूद लोगों की तालियों की गड़गड़ाहट के बीच पेंस ने कहा कि ट्रम्प अमेरिका को पहले रखते हैं और उन्होंने अमेरिकी लोगों की नौकरी पर वापसी पहले ही शुरू कर दी हैं। उन्होंने कहा, ‘वह सेना का पुननिर्माण कर रहे हैं और अपने दुश्मनों पर नजर रख रहे हैं। वह कानून प्रवर्तन का समर्थन करते हैं और अवैध आव्रजन को हमेशा के लिए खत्म कर रहे हैं।’

पेंस ने कहा कि ट्रम्प अपने वादों के पक्के इंसान हैं। उन्होंने इस बात पर अफसोस जताया कि मीडिया, गणमान्य व्यक्तियों, पार्टी के अंदर के लोगों, शीर्ष पद पर पदस्थ हर शख्स ट्रम्प को प्रत्येक कदम पर खारिज करता रहा। उन्होंने कहा, ‘ट्रम्प को खारिज करने के साथ उन्होंने लाखों मेहनकश लोगों को खारिज किया, इस देश को महान बनाने वाले लोगों को भुला दिया और अब तक की सबसे बुरी बात यह है कि वे अब भी उन्हें खारिज करने की कोशिश कर रहे हैं। वे अब भी हम सभी को खारिज करने की कोशिश कर रहे हैं।’

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने दी चेतावनी- "पाक या ISIS के झंडे लहराने वालों को बख्शा नहीं जाएगा"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App