ताज़ा खबर
 

81 वर्षीय महिला के घर पर हेलिकॉप्टर से पहुंचे नेशनल गार्ड और पुलिस, छापा मार कर बरामद किया गांजे का एक पौधा

महिला के बेटे ने बताया, "एक पुलिसवाला मेरे घर पर आया और अपना पुलिस बैज दिखाते हुए पूछा कि क्या यहां कोई गांजे का पौधा है।
मैरिजुआना या गांजे की प्रतीकात्मक तस्वीर। (एपी फोटो)

पूरी दुनिया में बढ़ती आतकंवाद और हिंसा की घटनाओं से आपको ये भ्रम होता है कि दुनिया भर में पुलिस और सुरक्षा एजेंसियां उतनी चौकस नहीं हैं जितना होना चाहिए तो आपको अमेरिका के मैसाचुएट्स राज्य की ये कहानी जरूर पढ़नी चाहिए। मैसाचुएट्स नेशनल गार्ड और राज्य पुलिस ने एक 81 वर्षीय महिला के घर में हेलीकॉप्टर से छापा मारकर गांजे का एक पौधा जब्त किया। हालांकि अंतराष्ट्रीय मीडिया और सोशल मीडिया में अमेरीकी सुरक्षा बलों और पुलिस की इस संयुक्त कार्रवाई की काफी आलोचना हो रही है। अमेरिका के कई राज्यों में गांजा पर प्रतिबंध है। मैसाचुएट्स में गांजा के उपयोग के लिए राज्य सरकार से विशेष लाइसेंस लेना होता है। महिला का कहना था कि वो गठिया और ग्लूकोमा की मरीज है इसलिए उसने अपने बगीचे में एक पौधा उगाया था। स्थानीय अखबार के अनुसार छापे के वक्त महिला घर पर नहीं थी और उसके बेटे और बेटी वहां मौजूद थे। अखबार के अनुसार पुलिस ने महिला से कहा कि उसके पास मेडिकल मैरिजुआना कार्ड नहीं है और वो पौधा खुले में था।

वीडियो: राकेश ओमप्रकाश मेहरा की नई फिल्म की समीक्षा-

महिला ने बेटे टिम हॉलकॉम्ब ने बताया कि पुलिस ने इलाके में कई और घरों पर भी छापा मारा था। हॉलकॉम्ब ने कहा, “ये बहुत डरावना था।” उन्होंने बताया, “एक पुलिसवाला मेरे घर पर आया और अपना पुलिस बैज दिखाते हुए पूछा कि क्या यहां कोई गांजे का पौधा है। मैंने कोई जवान नहीं देकर उससे पूछा कि वो यहां क्या कर रहा है।” हॉलकॉम्ब के अनुसार पुलिसवालों ने उनसे कहा कि अगर वो तलाशी वारंट की मांग करने के बजाय उन्हें परिसर की तलाशी लेने देंगे तो वो उन पर आपराधिक मामला नहीं दर्ज करेंगे। हॉलकॉम्ब के अनुसरा पुलिस अधिकारी ने उनसे कहा, “हम केवल गैर-कानूनी पदार्थ चाहते हैं।”

राज्य पुलिस के प्रवक्ता डेविड प्रोकोपियो ने बताया कि राज्य पुलिस और नेशनल गार्ड ने उस इलाके में सितंबर में छापा मारा था और हॉलकॉम्ब के घर से बरामद पौधा उस दिन जब्त किए गए गांजे के 44 पौधों में एक था। प्रोकोपियो ने कहा, “जिन घरों पर छापे मारे गए उनके मकानमालिक घर पर मौजूद थे। उन्हें पुलिस ने छापे की वजह बताई और गैर-कानूनी तौर पर गांजा का पौधा उगाने के बारे में आगाह करते हुए पौधों को जब्त कर लिया।”

Read Also: अल्जाइमर के इलाज में मददगार है गांजा

वीडियो: भारतीय कॉल सेंटर के कर्मचारियों पर अमेरिकियों को ठगने का आरोप-

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.