ताज़ा खबर
 

पाकिस्‍तान: इमरान खान के शपथ लेने से पहले अमेरिका ने दिया झटका, रक्षा मदद में की जबरदस्‍त कटौती

अमेरिकी कांग्रेस ने पाकिस्तान की रक्षा मदद में कटौती कर इसे 1028 करोड़ रुपए ($150 मिलियन) करने के लिए बिल पास कर दिया है। अब इस बिल में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के हस्ताक्षर के बाद यह कानून का रूप ले लेगा।

पाक के भावी पीएम

इमरान खान द्वारा पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने से पहले ही अमेरिका ने जोरदार झटका दिया है। अमेरिका कांग्रेस ने पाकिस्तान को दी जाने वाली रक्षा मदद में जबरदस्त कटौती करने का फैसला किया है। अमेरिका और पाकिस्तान के बीच पिछले कुछ दिनों से द्विपक्षीय रिश्तों में तनाव होने की खबरें आ रही थीं, इन्हीं खबरों के बीच अब अमेरिका ने रक्षा मदद में कटौती करने का बड़ा निर्णय लिया है। अमेरिकी कांग्रेस ने पाकिस्तान की रक्षा मदद में कटौती कर इसे 1028 करोड़ रुपए ($150 मिलियन) करने के लिए बिल पास कर दिया है। अब इस बिल में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के हस्ताक्षर के बाद यह कानून का रूप ले लेगा।

रिपोर्ट्स के मुताबिक मंगलवार को अमेरिकी कांग्रेस ने पाकिस्तान को दी जाने वाली रक्षा मदद को 5140 करोड़ ($750 मिलियन) से घटाकर 1028 करोड़ ($150 मिलियन) करने के लिए $716 बिलियन रक्षा प्राधिकरण बिल को मंजूरी दी है। आपको बता दें कि सीमा पर सुरक्षा बनाए रखने के उद्देश्य से अमेरिका पाकिस्तान को रक्षा मदद देता है।

साल की शुरुआत में ही राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि अमेरिका लगातार पाकिस्तान की मदद करता आ रहा है, लेकिन बदले में उसे केवल झूठ ही मिला है। ट्रंप ने ट्वीट कर कहा था, ‘युनाइटेड स्टेट्स ने बेवकूफी करते हुए पिछले 15 सालों में पाकिस्तान को रक्षा मदद के रूप में 33 बिलियन डॉलर्स से भी ज्यादा दिए हैं और उन्होंने अमेरिका को बदले में झूठ के सिवा कुछ नहीं दिया। वे सोचते हैं कि हमारे नेता बेवकूफ हैं। हम अफगानिस्तान में जिन आतंकियों को खोजते हैं वे उनको स्वर्ग की तरह अपने यहां शरण देते हैं।’ रिपोर्ट्स के मुताबिक अफगानिस्तान में आतंकियों के खिलाफ अमेरिका द्वारा चलाए जा रहे ऑपरेशन में पाकिस्तान एक क्षेत्रीय सहयोगी के रूप में अहम भूमिका निभा रहा है, जिसकी वजह से पाकिस्तान को अमेरिका हर साल रक्षा मदद देता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App