ताज़ा खबर
 

अमेरिका में ताबड़तोड़ धमाके, प्रशासन ने इलाका खाली कराया

मेसाच्युसेट स्टेट पुलिस ने अपने एक बयान में कहा है कि इस हादसे में कुल 70 आगजनी, ब्लास्ट की घटनाएं हुई हैं। पुलिस का कहना है कि अभी तक इस घटना में कुछ भी संदिग्ध नहीं लगा है।

अमेरिका के बोस्टन में हुए धमाके। (Boston Sparks/Social Media/via REUTERS )

अमेरिका के बोस्टन में हुए ताबड़तोड़ धमाकों में 6 लोग घायल हो गए हैं, वहीं धमाकों के बाद स्थानीय प्रशासन ने एहतियातन सैंकड़ों लोगों से इलाका खाली कराकर उन्हें सुरक्षित स्थान पर भेज दिया है। दरअसल यह धमाका एक गैस पाइपलाइन के क्षतिग्रस्त होने के चलते हुए। बोस्टन के लॉरेंस, एंडोवर और उत्तरी एंडोवर इलाकों में यह धमाके हुए। धमाकों के बाद पूरे इलाके में धुआं और अंधेरा फैल गया, दरअसल प्रशासन ने इलाके की बिजली काट दी थी। इसके साथ ही धमाकों की सूचना मिलते ही गैस सर्विस को भी बंद कर दिया गया है।

बताया जा रहा है कि 3 लोग जिनमें एक फायर फाइटर भी शामिल है, एंडोवर इलाके में हुए गैस पाइपलाइन के धमाकों में घायल हुए हैं। अन्य 3 लोग अन्य इलाकों में घायल हुए हैं। सभी घायलों का लॉरेंस जनरल अस्पताल में इलाज चल रहा है। मेसाच्युसेट स्टेट पुलिस ने अपने एक बयान में कहा है कि इस हादसे में कुल 70 आगजनी, ब्लास्ट की घटनाएं हुई हैं। पुलिस का कहना है कि अभी तक इस घटना में कुछ भी संदिग्ध नहीं लगा है। बोस्टन WBZ न्यूज के हवाले से कहा जा रहा है कि पहला धमाका गैस पाइप लाइन में प्रेशर बढ़ने के कारण हुआ।

इलाके में गैस सप्लाई की जिम्मेदारी कोलंबिया गैस कंपनी की है। गुरुवार को कंपनी ने अपने एक बयान में कहा था कि वह अपनी गैस लाइन्स को अपग्रेड कर रही है। लेकिन अभी तक यह साफ नहीं हो सका है कि जिस जगह ब्लास्ट हुए वहां कंपनी ने कोई अपग्रेडेशन का काम किया है या नहीं। कंपनी ने एक बयान जारी कर कहा है कि कोलंबिया गैस कंपनी मामले की जांच कर रही है। अमेरिका के ट्रांसपोर्टेशन पाइपलाइन एंड हैजार्ड्स मैटेरियल सेफ्टी एडमिनिस्ट्रेशन का कहना है कि एक टीम घटनास्थल पर भेज दी गई है, जो मामले की जांच में सहयोग करेगी। घटना के बाद सोशल मीडिया पर लोग आग में घिरे घरों और धमाकों की तस्वीरें शेयर कर रहे हैं। एंडोवर इलाके के मैनेजर एंड्रयू मेलर ने एक स्थानीय टीवी के साथ बातचीत में अपील करते हुए कहा कि लोग अगले आदेश तक जल्द से जल्द अपने घरों को खाली कर दें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App