अमेरिका में मस्जिद जा रही 17 साल की लड़की की हत्या, बेसबॉल बैट से पीटने के बाद तालाब में फेंकी लाश: रिपोर्ट्स - America 17 year old girl going to mosque killed beaten with baseball bat then thrown into pond - Jansatta
ताज़ा खबर
 

अमेरिका में मस्जिद जा रही 17 साल की लड़की की हत्या, बेसबॉल बैट से पीटने के बाद तालाब में फेंकी लाश: रिपोर्ट्स

अमेरिका में एक मुस्लिम लड़की की हत्या का मामला सामने आया है।

(Source: Facebook/NYMuslims@NewYorkMuslims)

अमेरिका में एक मुस्लिम लड़की की हत्या का मामला सामने आया है। वर्जीनिया में 17 साल की एक मुस्लिम लड़की की कथित रूप से हत्या करने के बाद उसके शव को एक तालाब में फेंक दिया गया। विदेशी मीडिया के मुताबिक 17 साल की नबरा अपने दोस्तों के साथ मस्जिद जा रही थी। तभी कार में सवार एक शख्स से उन लोगों का सामना हुआ। इस दौरान नबरा के बाकी साथी अपनी जान बचाकर भागने में कामयाब रहे लेकिन आरोपी शख्स ने लड़की की बेरहमी से पिटाई की और फिर उसे मारकर शव को तालाब में फेंक दिया। खबरों के मुताबिक वारदात बीते रविवार (18 जून) को सामने आई। पुलिस ने मामले की जांच शुरु करते हुए रविवार को तालाब से लड़की का शव बरामद किया। शव स्टर्लिंग के पास रीडटॉप सर्किल से बरामद किया गया। मामले में एक शख्स को भी गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार किए गए शख्स का नाम डार्विन मार्टिनेज टॉरिस बताया जा रहा है।

पुलिस ने इलाके की छानबीन के दौरान ही उसे गिरफ्तार किया। खबरों के मुताबिक पुलिस को उस पर तब शक हुआ जब उसे कई बार इलाके में गाड़ी चलाते हुए देखा गया। पुलिस ने एक सर्च ऑपरेशन के बाद उसे गिरफ्तार किया। इसके अलावा एक बेसबॉल बैट भी बरामद किया गया है। माना जा रहा है कि हत्या करने के लिए इस बैट का ही इस्तेमाल किया गया हो। पुलिस के मुताबिक हमलावर ने नबरा पर रास्ते पर जाते समय हमला किया। वहीं उसके(नबरा) के दोस्त सुरक्षित मस्जिद तक पहुंच गए थे। इस मामले को लेकर ऐसी खबरें भी फैल रही हैं कि यह एक हेट क्राइम की वारदात हो सकती है, लेकिन पुलिस ने इसकी संभावना को लेकर अभी कुछ नहीं कहा है।

खबरों के मुताबिक इलाके की ऑल डल्स एरिया मुस्लिम सोसाइटी ने इस बात की पुष्टि की है कि पीड़ित लड़की मस्जिद के कार्यों से जुड़ी हुई थी। हत्या को लेकर सोसाइटी ने अपनी प्रेस विज्ञप्ति में कहा- “हम दुखी हैं क्योंकि हमारा सामना ऐसी दर्दनाक घटना से हो रहा है, यह समय हमारे एक साथ आने का है और दुआ करने का है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App