ताज़ा खबर
 

छिड़ने वाली है जंग? ट्रंप ने नॉर्थ कोरिया की ओर रवाना किए दुनिया के 3 सबसे बड़े जंगी बेड़े

अमेरिका की ओर से यह बड़ा कदम सिर्फ और सिर्फ नॉर्थ कोरिया के झगड़ालू रवैये की वजह से उठाया गया है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने इससे पहले वहां के तानाशाह को इस बाबत चेतावनी भी दी थी।

(फाइल फोटोः United States Air Force)

अमेरिका ने नॉर्थ कोरिया की ओर जंगी जहाजों के बेड़े रवाना किए हैं। ऐसा अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कहने पर हुआ है। ये दुनिया के तीन सबसे बड़े हवाई जहाजों के जंगी बेड़े बताए जा रहे हैं। गुरुवार को अमेरिकी नौसेना ने इस बारे में पुष्टि की। अमेरिका के मुताबिक, ये बेड़े पश्चिमी प्रशांत क्षेत्र में जाएंगे और वहां संयुक्त रूप से अभ्यास करेंगे। 2007 के बाद यह पहली ड्रिल होगी, जिसमें दुनिया के तीन सबसे बड़े जंगी होंगे। अमेरिका ऐसा सिर्फ और सिर्फ नॉर्थ कोरिया के झगड़ालू रवैये की वजह से कर रहा है। ट्रंप ने यह कदम उठाने से पहले नॉर्थ कोरिया और वहां के तानाशाह किंग जॉन्ग उन को अपनी आदतों से बाज आने की नसीहत दी थी।

शनिवार को शुरू होने वाले इस ऑपरेशन में वॉशिंगटन का देश में सुरक्षा और स्थितरता बरकरार रखने का वादा फिर से सामने आएगा। बुधवार को इस बाबत ट्रंप ने नॉर्थ कोरिया को चेतावनी भी दी थी कि वह और किम जॉन्ग अपने लड़ाकू रवैये से बाज आ जाएं और अमेरिका के सब्र का इम्तेहान न ले। ट्रंप ने कहा था, “आज, मैं न केवल अपने देश के लिए बात करता हूं। बल्कि सभी सभ्य देशों का जिक्र कर रहा हूं। लेकिन जब उत्तर से कहता हूं, तो हमें कम न आंका जाए। न ही हमारा इम्तेहान लिया जाए।” गुरुवार को वह इसी क्रम में चीन के नेता शी जिनपिंग से मिले थे, जिसमें नॉर्थ कोरिया के परमाणु और मिसाइल को लेकर चर्चा हुई।

HOT DEALS
  • Micromax Dual 4 E4816 Grey
    ₹ 11978 MRP ₹ 19999 -40%
    ₹1198 Cashback
  • Sony Xperia L2 32 GB (Gold)
    ₹ 14845 MRP ₹ 20990 -29%
    ₹1485 Cashback

अमेरिकी नौसेना के मुताबिक, अमेरिकी जंगी जहाज इस दौरान वहां वायु सुरक्षा अभ्यास, समुद्र की निगरानी, हवा में बचाव संबंधी कॉम्बैट ट्रेनिंग और बाकी ऑपरेशन को अंजाम देंगे। नौसेना में कमांडर स्कॉट स्विफ्ट ने बताया कि ऐसे कम ही मौके आते हैं, जब एक साथ दो या तीन हवाई जहाजों को ट्रेनिंग का मौका मिलता है। 2007 के बाद ऐसा पहली बार होगा, जब तीन हवाई जहाज के बेड़े उस क्षेत्र में अभ्यास के लिए भेजे जा रहे हैं। यह ऑपरेशन 11 से 14 तक चलेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App