ताज़ा खबर
 

Amazon की चांद पर जाने की तैयारी, जेफ बेजोस भेजेंगे स्पेशशिप

इस स्पेसक्राफ्ट पर पिछले तीन साल से काम चल रहा था। यह वैज्ञानिक उपकरणों को ले जाने में बेहद सक्षम है। हालांकि बेजोस ने इसका खुलासा नहीं किया है कि वह किस दिन इस मिशन को लॉन्च करेंगे।

लूनर लैंडर को लांच करते जेफ बेजोस।

अमेजन के मालिक जेफ बेजोस ने शुक्रवार (10 मई 2019) को घोषण की है कि वह चांद पर अपना स्पेशशिप भेजेंगे। बेजोस ने ‘ब्लू ओरिजिन स्पेस प्रोग्राम’ के तहत अपने रोबोटिक शिप (मून लैंडर) को लॉन्च किया। लॉन्चिंग के दौरान उन्होंने कहा कि वह इसे चांद पर भेजने की तैयारी में है। यह मून लैंडर चार रोवर्स (चांद की सतह पर घूमने वाला वाहन), नए तरह से डिजाइन किया हुआ रॉकेट और सूप-अप रॉकेट को ले जाने में सक्षम है। यह एक शानदार मून लैंडर है और यह जल्द ही चांद पर जाने वाला है। अब समय आ गया है कि हम चांद की धरती पर फिर से कदम रखें और वहां रुकें। इसके लिए हम चांद तक रास्ता बनाएंगे।

उन्होंने बताया कि वह नासा के साथ मिलकर इस पर पिछले तीन साल से काम कर रहे थे। यह वैज्ञानिक उपकरणों को ले जाने में बेहद सक्षम है। हालांकि बेजोस ने इसका खुलासा नहीं किया है कि वह किस दिन इस मिशन को लॉन्च करेंगे। बता दें कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के 2016 में सत्ता में आने के बाद उन्होंने चांद मिशन पर तेजी लाने पर जो दिया था। जिसके बाद जेफ की कंपनी ‘ब्लू ओरिजिन स्पेस प्रोग्राम’ पर नासा के साथ मिलकर काम कर रही है। ट्रंप ने 2024 में तक फिर से चांद की सतह पर जाने की डेडलाइन तय की हुई है।

 

बता दें कि चीन, अमेरिका और जापान समेत कई देश चांद के रहस्यों को जानने के लिए अपने-अपने अंतरिक्ष मिशन पर काम कर रहे हैं। सबसे पहले 1966 में सोवियत संघ ने चांद की सतह पर लूना 9 को उतारा था। जिसके चार महीने बाद अमेरिका ने अपना महत्वकांक्षी मिशन ‘ओपोलो प्रोग्राम’ को लांच किया था। इस मिशन के तहत नासा ने मानव को चांद की सतह पर भेजा और वहां पर चांद की बारीकी से रिसर्च की। इस पूरे मिशन को अमेरिका ने लाइव टेलिकास्ट भी किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App