ताज़ा खबर
 

एयर इंडिया विमान मामला: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री फडणवीस के समर्थन में आगे आए सह-यात्री

मुंबई से अमेरिका जाने वाली एयर इंडिया की उड़ान में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के साथ सवार दो सह यात्रियों ने उड़ान में देरी कराने संबंधी मामले में मुख्यमंत्री की बात का समर्थन किया है।

Author July 3, 2015 12:03 PM
मुंबई से अमेरिका जाने वाली एयर इंडिया की उड़ान में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के साथ सवार दो सह यात्रियों ने उड़ान में देरी कराने संबंधी मामले में मुख्यमंत्री की बात का समर्थन किया है।

मुंबई से अमेरिका जाने वाली एयर इंडिया की उड़ान में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के साथ सवार दो सह यात्रियों ने उड़ान में देरी कराने संबंधी मामले में मुख्यमंत्री की बात का समर्थन किया है।

इससे पहले फडणवीस ने भी अपने बचाव में कहा कि उड़ान में देरी उनके कारण नहीं हुई थी और उन्होंने भारत लौटने पर आपराधिक मानहानि की कार्यवाही शुरू करने की धमकी दी।

गुस्साए फडणवीस ने कल ट्वीट किया कि 29 जून को मुंबई से न्यूयार्क जाने वाली एयर इंडिया की उड़ान में उनके प्रतिनिधिमंडल द्वारा देरी कराए जाने के विवाद को लेकर वह देश लौटने के बाद मानहानि का मामला दायर करेंगे।

उन्होंने ट्वीट किया था, ‘‘बहुत हो गया। मैं भारत वापस आकर आपराधिक मानहानि की कार्यवाही शुरू करूंगा।’’
मुख्यमंत्री के ट्वीट के बाद विमान की उसी उड़ान में सवार दो लोगों ने फडणवीस का समर्थन करते हुए माइक्रोब्लॉगिंग साइट पर कहा कि उड़ान में देरी उनके कारण नहीं हुई।

दुष्यंत नाम से एक यूजर ने ट्वीट किया, ‘‘ मैं उड़ान एआई 191 में मौजूद था। मुख्यमंत्री और प्रतिनिधिमंडल समय पर पहुंच गया था। आव्रजन संबंधी समस्या के कारण उड़ान में देरी हुई।’’

इस यूसर की ट्विटर प्रोफाइल के अनुसार वह उदयपुर का रहने वाला एक लेखक और फ्रीलांस पत्रकार है।

ट्विटर के एक अन्य यूजर अरविंद शाह ने ट्वीट किया, ‘‘ मैं एआई 191 में था और मुख्यमंत्री के पीछे की सीट (8डी) पर बैठा था। उन्होंने न तो कोई फोन किया और न ही उड़ान में विलंब करने की कोशिश की। वह दस्तावेज पढने में व्यस्त थे।’’
फडणवीस ने इन दोनों ट्वीट को फिर से ट्वीट किया।

इससे पूर्व फडणवीस ने 30 जून को एक ट्वीट में इन आरोपों का खंडन किया था कि उन्होंने न्यूयार्क जाने वाली उड़ान में जबरन देरी कराई।

उन्होंने इन आरोपों को ‘‘गलत और भ्रामक’’ बताया था।

यह मामला गत सोमवार का है जब फडणवीस उद्योग मंत्री सुभाष देसाई, मुख्य सचिव स्वाधीन क्षत्रीय और प्रधान सचिव प्रवीण परदेशी के साथ एक सप्ताह की यात्रा पर अमेरिका जा रहे थे।

मीडिया में आयी खबरों के अनुसार परदेशी को चेक इन पर हरी झंडी मिल गई थी लेकिन उन्हें इसलिए रोक लिया गया क्योंकि जो पासपोर्ट उनके पास था उसमें कोई वैध अमेरिकी वीजा नहीं था। उनका वैध अमेरिकी वीजा पुराने पासपोर्ट में था। उन्होंने अपना पुराना पासपोर्ट मंगाने का इंतजाम किया जिसके बाद उन्हें विमान की ओर बढ़ने दिया गया।

कांग्रेस ने इसे लेकर फडणवीस पर निशाना साधा है। पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने मांग की कि यदि मुख्यमंत्री ने उड़ान में देरी कराई है तो उन्हें माफी मांगनी चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X