ताज़ा खबर
 

ISIS ने जंग के मैदान से भागने के लिए चार भारतीयों के भी सिर काटे? जांच में जुटी एजेंसियां

अभी तक कुल 23 भारतीयों के आईएसआईएस ज्‍वाइन करने की बात सामने आ चुकी है। सीरिया और इराक में आईएसएस की ओर से जंग लड़ते हुए इनमें से छह की मौत हो चुकी है।

Author नई दिल्‍ली | February 2, 2016 1:06 PM
आईएसआईएस ने अपने लड़ाकों कलम करने का वीडियो भी जारी किया है।

भारतीय एजेंसियां उन रिपोर्ट्स की जांच कर रही हैं, जिनके मुताबिक इराक के मोसुल शहर में आईएसआईएस के आतंकियों द्वारा मौत के घाट उतारे गए 20 जिहादियों में चार के भारतीय होने की बात कही जा रही है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, आईएसआईएस के ये लड़ाके जंग छोड़कर भागने की कोशिश कर रहे थे, जिसके बाद इनके सरेआम सिर कलम क‍र दिए गए। सूत्रों का कहना है कि भारतीयों की हत्‍या की आधिकारिक पुष्‍ट‍ि नहीं हुई है। हालांकि, रिपोर्ट्स सामने आने के बाद  एजेंसियां अलर्ट हो गई हैं और वे इसकी पुष्‍ट‍ि करने में जुट गई हैं। बता दें कि सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक, अभी तक कुल 23 भारतीयों के आईएसआईएस ज्‍वाइन करने की बात सामने आ चुकी है। सीरिया और इराक में आईएसएस की ओर से जंग लड़ते हुए इनमें से छह की मौत हो चुकी है।

क्‍या है मामला
आरा न्यूज के अनुसार, इस्लामिक स्टेट के आतंकियों ने निनेवे प्रांत के मोसुल शहर में जंग के मैदान से भागने की कोशिश करने वाले अपने ही आतंकवादियों को पकड़ लिया और सबके सामने उन्हें मौत के घाट उतार दिया। एक स्थानीय सूत्र ने आईएसआईएस के एक ‘ओहदेदार’ के हवाले से कहा, ‘‘विद्रोहियों को शुक्रवार की शाम को मोसुल के पास जांच चौकी पर गिरफ्तार किया गया था। पश्चिमी मोसुल में लड़ाई पर मोर्चे के दौरान लड़ाकों के तौर पर अपनी पोजिशन को छोड़ने वाले इन आतंकियों को मुकदमे के लिए शरीया अदालत में भेजा गया था।’’ उसने कहा, ‘‘संक्षिप्त पूछताछ के बाद शरीया अदालत ने धोखाधड़ी के आरोप में भागने वालों का सिर काटने का फैसला किया।’’ खबर के अनुसार जिहादियों को मोसुल में सैकड़ों लोगों के सामने मौत के घाट उतारा गया जिनमें अधिकतर आईएसआईएस के सदस्य और कमांडर थे।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App