ताज़ा खबर
 

भारी बर्फबारी के बाद हिमस्खलन से अफगानिस्तान में 54 और पाकिस्तान में 14 लोगों की मौत

पाकिस्तान में भी भारी हिमपात के बाद हिमस्खलन से पांच मकानों के दब जाने से कम से कम 14 लोगों की मौत हो गई।

Author काबुल | Updated: February 5, 2017 8:28 PM
काबुल में अपनी दुकान की छत से बर्फ हटाता एक युवक। ( Photo Source: REUTERS)

अफगानिस्तान में भारी बर्फबारी के चलते हिमस्खलनों की वजह से पिछले तीन दिनों में कम से कम 54 लोगों की मौत हो गई है और अंदेशा जताया जा रहा है कि मृतकों की संख्या में अभी इजाफा होगा। अफगानिस्तान के आपदा प्रबंधन एवं मानवीय मामलों के मंत्री के प्रवक्ता उमर मोहम्मदी ने बताया कि देश के 34 में से 22 प्रांतों में बर्फबारी हुई है। इसके चलते हुए हिमस्खलनों से तकरीबन ढेर सारे घर तबाह हो गए और सड़कें बंद हो गई हैं।

मोहम्मदी ने बताया, ‘22 प्रांतों में हिमस्खलनों और कड़ाके की ठंड से अब तक 54 लोगों की जानें जा चुकी हैं और 52 घायल हैं।’उन्होंने बताया कि 168 घर तबाह हो गए और 340 मवेशी मारे गए। इस बीच, परवान प्रांत के प्रांतीय गवर्नर मोहम्मद असीम ने बताया कि प्रांत के दो जिलों में हिमस्खलनों से 16 लोगों की मौत हो गई जबकि आठ अन्य घायल हैं। असीम ने बताया कि बचाव दल प्रभावित इलाकों में भेजे गए हैं लेकिन बर्फबारी से ढेर सारी सड़कें बंद हैं।

बदखशां के प्रांतीय गवर्नर के प्रवक्ता नवीद फ्रोतान ने बताया कि शुरूआती रिपोर्टों में कम से कम 18 लोगों के मरने की खबर है, लेकिन यह तादाद बढ़ भी सकती है। भारी बर्फबारी के मद्देनजर सरकार ने रविवार को सार्वजनिक अवकाश घोषित कर दिया।

वहीं, पाकिस्तान में खैबर पख्तुनख्वा प्रांत के चितराल जिले में दूरदराज के इलाके में भारी हिमपात के बाद हिमस्खलन की घटना में पांच मकानों के दब जाने से कम से कम 14 लोगों की मौत हो गई। चितराल स्काउट कमांडेंट कर्नल निजुमुद्दीन शाह ने बताया कि बर्फ के मलबे में दबे 14 शवों को निकाल लिया गया है, जिनमें छह महिलाएं, छह बच्चे और दो पुरच्च्ष शामिल हैं। हिमस्खलन में पांच मकान बर्फ के नीचे दब गए हैं, अभी यह स्पष्ट नहीं है कि कितने लोग हिमस्खलन से प्रभावित हुए हैं।

समाचार पत्र ‘डॉन’ ने चित्राल जिले के नाजिम मगफिरात के हवाले से खबर दी है कि इस क्षेत्र में पिछले दो दिनों से भारी बर्फबारी के कारण अनेक परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया है हालांकि कुछ परिवार हिमस्खलन प्रभावित स्थानों पर ही बने रहे थे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 नवाज शरीफ ने कहा- भारत और पाकिस्तान के बीच मुख्य विवाद है कश्मीर, इसके समाधान के बिना शांति नहीं
2 भारत ने पांच साल के इफ्तिखार अहमद को मां से मिलवाया तो पाकिस्तान ने कहा- शुक्रिया
3 जॉनी डेप का एक महीने का खर्चा 13 करोड़ रुपए, जानें कहां खर्च होता है इतना पैसा
ये पढ़ा क्या?
X