ताज़ा खबर
 

अफगान तालिबान ने जारी किया वीडियो, नजर आए अमेरिकी और आॅस्ट्रेलियाई बंधक

कुल 13 मिनट और 35 सेकेंड का वीडियो बुधवार (11 जनवरी) को तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने प्रसारित किया।

Author काबुल | January 12, 2017 4:47 PM
अफगान तालिबान के आतंकी। (चित्र का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।)

तालिबान के कब्जे में कैद लोगों के वीडियो में एक अमेरिकी और एक ऑस्ट्रेलियाई नागरिक दिखाई दिया है। इन लोगों का अपहरण पांच माह पहले काबुल से किया गया था। पुलिस की वर्दी पहने हुए बंदूकधारियों ने सात अगस्त को अफगान राजधानी के बीचोंबीच स्थित अमेरिकन यूनिवर्सिटी ऑफ अफगानिस्तान से दो प्रोफेसरों का अपहरण कर लिया था। अपहर्ताओं ने इन प्रोफेसरों के वाहन की खिड़की तोड़ते हुए उन्हें अपने कब्जे में लिया था। कुल 13 मिनट और 35 सेकेंड का वीडियो बुधवार (11 जनवरी) को तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने प्रसारित किया। यह वीडियो इस बात का पहला प्रत्यक्ष प्रमाण देता है कि ये दोनों जीवित हैं। इस वीडियो के आने से पहले अमेरिकी विशेष अभियान दलों ने अगस्त में इन दोनों नागरिकों को बचाने के लिए गोपनीय तरीके से छापेमारी की थी। हालांकि उनका प्रयास विफल रहा था।

पेंटागन ने सितंबर में कहा कि राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अफगानिस्तान के एक अज्ञात स्थान पर छापेमारी को मंजूरी दी थी लेकिन बंधक वहां नहीं थे। वर्ष 2006 में खुली अमेरिकन यूनिवर्सिटी ऑफ अफगानिस्तान से प्रतिक्रिया के लिए संपर्क नहीं किया जा सका। इस संस्थान में 1700 से ज्यादा छात्र पढ़ते हैं। यहां पश्चिमी देशों से कई संकाय सदस्य आते हैं। इन अपहरणों ने अफगानिस्तान में विदेशियों पर बढ़ते खतरों को रेखांकित कर दिया। अफगान राजधानी में संगठित आपराधिक गिरोह फैले हुए हैं। ये गिरोह फिरौती के लिए अकसर अपहरण करते हैं। इसके लिए वे प्राय: विदेशियों और धनी अफगानों को निशाना बनाते हैं और कई बार इन्हें उग्रवादी समूहों को भी सौंप देते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X