ताज़ा खबर
 

अमेरिका की यॉर्क काउंटी जेल में मर गया शख्स, बिना दिल, ब्रेन और गले के लौटाया शव

अमेरिका के डेलवेयर में रहने वाले शख्स की मौत यॉर्क काउंटी जेल में हो गई। परिजनों को जब उसका शव लौटाया गया तो उसमें दिल, ब्रेन और गला गायब था।

Author नई दिल्ली | June 7, 2019 11:32 AM
पुलिस ने 9 अप्रैल को एवरेट पामर को जेल में डाला था। (फोटो: एवरेट के फेसबुक पेज से)

अमेरिका की यॉर्क काउंटी जेल में एक पूर्व सैनिक की रहस्मयी मौत का मामला सामने आया है। वाशिंगटन पोस्ट की खबर की अनुसार पूर्व सैनिक 41 वर्षीय एवरेट पामर जूनियर की पिछले साल 1 अप्रैल को मौत हो गई। मौत के बाद जब पामर के घरवालों को उसका शव लौटाया गया तो उसके दिल, गला और ब्रेन जैसे महत्वपूर्ण अंग गायब थे।

उसके परिवार वालों ने बताया कि दो बच्चों का पिता पामर पिछले साल 7 अप्रैल को अपने घर से एक वारंट के सिलसिले में अपने घर डेलवेयर से लैंकास्टर काउंटी के लिए निकला था। दो दिन बाद उसके परिवार को फोन आया कि यॉर्क काउंटी जेल में उसकी मौत हो चुकी है।

यॉर्क काउंटी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार पामर की मौत जेल की सेल में गुस्से बाद हुई एक घटना में हो गई। हालांकि, उसके परिवार वालों को उसकी मौत के सही कारणों के बारे में अभी तक पता नहीं है। सबसे चौंकाने और हैरान करने वाली बात यह रही कि पामर का शव जब उसके परिजनों को लौटाया गया तो उसमें कई महत्वपूर्ण अंग नहीं थे।

परिवार की तरफ से वकील ली मेरिट ने बताया कि उसके शरीर के अंग कई महीनों से गायब है और अभी तक उसके परिवार वालों को लौटाए नहीं गए हैं। मेरिट का कहना है कि प्रशासन किस तरह से सभी नियम व प्रक्रियाओं का उल्लंघन कर रहा है। उसने कहा कि पोस्टमार्टम मे जांच के नाम पर शरीर के अंगों को निकाल लेना असामान्य हैं।

पामर की मौत के एक साल बाद भी परिवार कानूनी लड़ाई में उलझा हुआ है। पेंसिलवेनिया स्टेट पुलिस यॉर्क स्टेशन इस मामले की जांच कर रहीहै। हालांकि, पुलिस और प्रशासन की तरफ से इस मामले पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी जा रही है। यॉर्क काउंटी कोरोनर्स रिपोर्ट के अनुसार पाम को यॉर्क काउंटी जेल की सिंगल सेल में 9 अप्रैल को रखा गया था।

वह अचानक उत्तेजित होकर अपने सिर को सेल की फर्श पर मारने लगा। जेल के अधिकारियों ने उसे ऐसा करने से रोका। घटना के बाद उसे क्लिनिक ले जाया गया। इसके बाद उसे यॉर्क अस्पताल भेजा गया जहां उसे सुबह 5.46 बजे मृत घोषित कर दिया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X