ताज़ा खबर
 

फ्रांसीसी राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के भाषण के दौरान चली गोली, 2 लोग हुए घायल

फ्रांसीसी राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलोंद के भाषण के दौरान पुलिस के एक शार्पशूटर के हथियार से दुर्घटनावश गोली चल गयी, जिससे दो व्यक्ति मामूली रूप से जख्मी हो गये।

Author पेरिस | March 1, 2017 11:15 AM
फ्रांसीसी राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के भाषण के दौरान चली बंदूक

फ्रांसीसी राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के भाषण के दौरान पुलिस के एक शार्पशूटर के हथियार से दुर्घटनावश गोली चल गयी, जिससे दो व्यक्ति मामूली रूप से जख्मी हो गये। फ्रांस के शैरेंट क्षेत्र के शीर्ष अधिकारी पियरे एनगहाने ने बताया कि पश्चिमी शहर विलोगनान में जब ओलोंद तेज गति वाली एक नयी रेलवे लाइन का उद्घाटन कर रहे थे उसी दौरान यह घटना हुई।  क्षेत्रीय निरीक्षक ने दुर्घटनास्थल के करीब संवादाताओं को बताया कि वह सैन्य पुलिस अधिकारी अपनी नियमित तैनाती वाले एक ऊंचे स्थान पर था, कि अचानक उसके हथियार से गोली चल गयी।

यह पूछने पर कि क्या शार्पशूटर के हथियार से दुर्घटनावश गोली चली थी, एनगहाने ने कहा ‘हां….इसमें कोई संदेह नहीं है।’ उन्होंने बताया कि गोली चलने से दो व्यक्ति मामूली रूप से घायल हुये हैं। दोनों के एक एक पैर में थोड़ी चोट आयी है। एलिसी पैलेस के ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट किये गये वीडियो में दिखाई देता है कि ओलोंद श्रोताओं के सामने बने एक मंच से भाषण दे रहे हैं, कि तभी अचानक गोली चलने की आवाज सुनाई देती है।

HOT DEALS
  • Honor 7X 64GB Blue
    ₹ 15445 MRP ₹ 16999 -9%
    ₹0 Cashback
  • Apple iPhone 7 32 GB Black
    ₹ 41677 MRP ₹ 50810 -18%
    ₹0 Cashback

इसके बाद ओलांद रूके और आवाज वाली दिशा में मुड़े। कुछ देर देखने के बाद उन्होंने कहा कि उनके विचार से कोई गंभीर बात नहीं हैं। इसके बाद उन्होंने अपना भाषण फिर से शुरू कर दिया। यह घटना ओलोंद के भाषण के समाप्त होने से करीब 20 मिनट पहले हुयी। गोली चलने पर उनका भाषण 20 से भी कम सेंकेंड के लिए बाधित हुआ।

कंसास से रिपब्लिकन कांग्रेस के सदस्य केविन योदेर ने इससे पहले ट्रंप से अपील की थी, ‘‘विविध राजनीतिक एवं धार्मिक विचार हमारे देश को महान बनाते हैं और मैं चाहता हूं कि वह इस अवसर का आज रात प्रयोग करें।… मैं ओलाथे में पिछले सप्ताह हुई इस मूर्खतापूर्ण घटना को लेकर व्हाइट हाउस के संपर्क में हूं जिसमें श्रीनिवास कुचिभोटला की मौत हो गई थी और आलोक मदसानी एवं इयान ग्रिलॉट घायल हो गए थे।’’
पूर्व नौसैन्य कर्मी एडम पुरिन्टन ने गोली मार कर श्रीनिवास कुचिभोटला (32) की हत्या कर दी थी और एक अन्य भारतीय आलोक मदसानी (32) को घायल कर दिया था। पुरिन्टन ने उन पर गोलीबारी करने से पहले उन्हें ‘‘आतंकवादी’’ कहा था। उसने कहा था, ‘मेरे देश से बाहर निकल जाओ।’

इस दौरान 24 वर्षीय अमेरिकी इयान ग्रिलॉट भी बीच बचाव करने की कोशिश करते हुए घायल हो गया था। पुरिन्टन (51) ने इन भारतीयों को स्पष्ट रूप से गलती से पश्चिम एशिया से आए प्रवासी समझ लिया था। हिंदू अमेरिकन फाउंडेशन (एचएएफ) ने भी ट्रंप से इस मामले पर बोलने की अपील की थी।

डोनाल्ड ट्रंप ने कंसास में मारे गए भारतीय की मौत की निंदा की; US कांग्रेस को संबोधित करते हुए कहा- "बाय अमेरिकन, हायर अमेरिकन"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App