ताज़ा खबर
 

92 साल की महिला ने 72 साल के बेटे को गोली मारी, प्रेमिका को साथ रख मां को भेज रहा था वृद्धाश्रम

पुलिस जब महिला के घर में पहुंची तो कमरे में वह बड़बड़ाते हुए कह रही थीं, 'तुमने मेरी जिंदगी ले ली इसलिए मैं तुम्हारी जिंदगी ले रही हूं।'

2 जुलाई को ऐना और थॉमस के बीच तीखी बहस हुई। साथ रहने में हो रही परेशानी की वजह से थॉमस मां को वृद्धाश्रम में भेजना चाहता है। (twitter)

अमेरिका में 92 साल की एक महिला को अपने 72 साल के बेटे की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। आरोपी महिला की पहचान ऐना मे ब्लेसिंग के रूप में की गई है। उसके खिलाफ हत्या के आरोप में केस दर्ज किया गया है। बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक ऐना का बेटा थॉमस ब्लेसिंग उसे वृद्धाश्रम ले जाने की कोशिश कर रहा था। इससे परेशान होकर बीते सोमवार (2 जुलाई, 2018) को ऐना ने थॉमस को गोली मार दी। पुलिस जब महिला के घर में पहुंची तो कमरे में वह बड़बड़ाते हुए कह रही थीं, ‘तुमने मेरी जिंदगी ले ली इसलिए मैं तुम्हारी जिंदगी ले रही हूं।’ पुलिस पूछताछ में बेटे की हत्या की आरोपी महिला ने बताया कि वो हत्या के बाद खुद को भी गोली मारना चाहती थी, लेकिन थॉमस की प्रेमिका ने पिस्तौल छीन ली थी।

बता दें कि 2 जुलाई को ऐना और थॉमस के बीच तीखी बहस हुई। साथ रहने में हो रही परेशानी की वजह से थॉमस मां को वृद्धाश्रम में भेजना चाहता है। घर में वह प्रेमिका संग घर में रहना चाहता था। पुलिस रिपोर्ट के मुताबिक महिला ने बेटे से विवाद पैदा होने से पहले दो पिस्तौल जेब में छिपा ली थी। दोनों के बीच बहस जब विवाद में बदल गई तो उसने पिस्तौल निकालकर बेटे को गोली मार दी। ऐना ने पिस्तौल साल 1970 में खरीदी में थीं। उसने थॉमस को दो गोलियां मारीं। एक गोली उसकी गर्दन पर लगी और दूसरी जबड़े पर लगी। बेटे को मारने के बाद ऐना पिस्तौल उसकी प्रेमिका के ऊपर तान दी।

हालांकि उसने किसी तरह खुद को बचाया और पिस्तौल में कमरे में एक तरफ फेंक दी। इसके बाद ऐना ने जेब से दूसरी पिस्तौल निकाली। इस बार भी प्रेमिक ने खुद को बचा लिया। ऐना ने बताया कि दूसरी पिस्तौल उसके पति ने दी थी। पुलिस ने हत्या की आरोपी महिला के खिलाफ फर्स्ट डिग्री हत्या का केस दर्ज किया है। इसके अलावा किडनैपिंग और गंभीर हमले का भी केस दर्ज किया है। पुलिस ने महिला की जमानत के लिए 5 लाख डॉलर की राशि तय की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App