ताज़ा खबर
 

COVID-19 दुनिया में कैसे फैला और WHO ने इस पर क्या किया? भारत समेत 62 देशों ने जांच के प्रस्ताव पर किया सपोर्ट

COVID-19: यूरोपीय संघ और ऑस्ट्रेलिया WHO समन्वित अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्रतिक्रिया से कोविड के निष्पक्ष, स्वतंत्र और व्यापक मूल्यांकन के लिए समर्थन जुटा रहे हैं।

तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है।

COVID-19: भारत सहित 62 देशों ने ऑस्ट्रेलिया और यूरोपीय संघ के उस संयुक्त प्रयास का समर्थन किया है जो डब्लूएचओ की कोविड-19 महामारी की प्रतिक्रिया की स्वतंत्र जांच की मांग कर रहा है। आज से शुरू होने वाली 73वीं विश्व स्वास्थ्य सभा (WHA) की बैठक के लिए प्रस्तावित एक ड्राफ्ट के अनुसार ये जानकारी सामने आई है।

ड्राफ्ट में ‘कोरोनो वायरस संकट में निष्पक्ष, स्वतंत्र और व्यापक’ जांच की भी मांग की गई है। इसके अलावा विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की कार्रवाइयों और कोविड-19 महामारी से संबंधित उनकी समय सीमा की जांच की भी मांग की गई है। प्रस्ताव में WHO महासचिव से इंटरनेशनल एजंसीज के साथ मिलकर वारयस के सोर्स का पता लगाने और वह इंसानों में कैसे फैला, इसका पता लगाने की भी मांग रखी गई है।

Cyclone Amphan, Weather Forecast Today LIVE Updates

यूरोपीय संघ और ऑस्ट्रेलिया WHO समन्वित अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्रतिक्रिया से कोविड के निष्पक्ष, स्वतंत्र और व्यापक मूल्यांकन के लिए समर्थन जुटा रहे हैं। पिछले महीने ऑस्ट्रेलिया पहला देश था जिसने कोरोना वायरस के प्रकोप की स्वतंत्र जांच शुरू की। एबीसी रिपोर्ट के मुताबिक ऑस्ट्रेलियाई विदेश मंत्री मरीसे पेन ने कहा था कि WHO इस मामले की जांच करे। उन्होंने कहा था कि यह अंतरराष्ट्रीय समुदायों के एक साथ आने का वक्त है ताकि अगली महामारी से समय से निपटा जा सके, जिससे हमारे लोग सुरक्षित रह सकें।

हालांकि इस प्रस्ताव में चीन या वुहान शहर का उल्लेख नहीं किया गया है, जहां प्रकोप शुरू हुआ माना जाता है। यूरोपीय संघ समर्थित मसौदे में नामित अन्य प्रमुख देशों में जापान, यूनाइटेड किंगडम, न्यूजीलैंड, दक्षिण कोरिया, ब्राजील और कनाडा शामिल हैं।

Coronavirus/COVID-19 और Lockdown से जुड़ी अन्य खबरें जानने के लिए इन लिंक्स पर क्लिक करें: Lockdown 4.0 Full Update: 14 दिन के लिए और बढ़ा देश में लॉकडाउन, अब 3 के बजाय 5 होंगे जोन्स; प्लेन-ट्रेन व मेट्रो रहेगी बंदLockdown 4.0 Guidelines में किन चीजों को मंजूरी और किन्हें नहीं, देखें डिटेल मेंकोरोना, लॉकडाउन की मार: ‘घर पर पड़ी है पति की लाश, बस पहुंचा दो गांव’, दिल्ली में फंसी महिला का दर्दमजदूरों का मुद्दाः मोदी सरकार पर बरसे RSS से जुड़े संगठन के नेता, बोले- श्रमिकों को मारोगे भी, फिर रोने भी न दोगेMyGov.in COVID-19 Trackers: इन 13 तरीकों से पा सकते हैं Corona से जुड़ी आधिकारिक जानकारी। IRCTC: मरीजों, बुजुर्गों को लाने-ले-जाने को स्टेशन पर मिलती है बैट्री कार, जानें कैसे

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 Covid-19: चीन में कोरोना वायरस के 15 नये मामले, वुहान में पसरा एक दूसरा खतरा
2 Covid-19: लॉकडाउन के बीच धार्मिक स्थल पर जुटे हजारों लोगों ने मनाया जश्न, 300 को किया गिरफ्तार