scorecardresearch

महारानी एलिजाबेथ के निधन के बाद कैडबरी समेत 600 ब्रांड्स को किस बात का सता रहा है डर? जानें

Queen Elizabeth II Death: महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का अंतिम संस्कार 19 सितंबर 2022 को होगा। इसमें दुनियाभर के करीब 2000 मेहमान शिरकत करेंगे।

महारानी एलिजाबेथ के निधन के बाद कैडबरी समेत 600 ब्रांड्स को किस बात का सता रहा है डर? जानें
महारानी एलिजाबेथ द्वितीय (Photo Source- Reuters)

Queen Elizabeth II Death: ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का 8 सितंबर 2022 को निधन हो गया। वह पिछले कुछ वक्त से बीमार थीं। महारानी की मौत के बाद उनके सबसे बड़े बेटे किंग चार्ल्स III ब्रिटेन के नए सम्राट बनाए गए। महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निधन के साथ ही उनके 600 पसंदीदा ब्रांड पर अपनी शाही प्रतिष्ठा को खोने का खतरा मंडरा रहा है।

क्वीन एलिजाबेथ के निधन के बाद करीब 600 ब्रांड को शाही सील खोने का डर है। इन ब्रांड्स में कैडबरी चॉकलेट, मेसन टी, बरबेरी रेनकोट समेत कई ब्रांड्स हैं जो महारानी के फेवरेट हुआ करते थे। इन ब्रांड ओनर्स को अब डर सता रहा है कि अगर किंग्स चार्ल्स ने उन्हें मंजूरी नहीं दी तो वे शाही सील खो देंगे जिससे उन्हें काफी नुकसान हो सकता है।

किंग चार्ल्स III की मंजूरी का इंतजार: इन ब्रांड को अपनी शाही प्रतिष्ठा बरकरार रखने के लिए किंग चार्ल्स III की मंजूरी का इंतजार करना होगा। फोर्टनम, मेसन टी, बरबेरी रेनकोट, कैडबरी चॉकलेट, ब्रूमस्टिक और डॉग फूड निर्माता समेत 600 ब्रांड्स को अगर नए सम्राट की स्वीकृति नहीं मिलती है, तो उनके पास शाही सील को हटाने के लिए दो साल का समय होगा जो उन्हें अन्य प्रतियोगी ब्रांड से अलग और यूनीक करता है।

किंग चार्ल्स तृतीय की तरफ से अब तक इन ब्रांड्स को लेकर कोई फैसला नहीं लिया गया है। इससे पहले किंग चार्ल्स ने राजकुमार के रूप में 150 से ज्यादा ब्रांड्स को खुद की शाही सील जारी की थी। गौरतलब है कि ब्रांड्स के ऊपर शाही सील दिखाता है कि ये बेस्ट क्वालिटी है क्योंकि इन पर शाही सील लगी हुई है।

रॉयल वारंट होल्डर्स एसोसिएशन का कहना है कि धारकों को अपने उत्पाद, पैकेजिंग, स्टेशनरी, विज्ञापन, परिसर और वाहनों पर शाही सील लगाने का अधिकार होता है। कुछ कंपनियों के लिए रॉयल एंडोर्समेंट ब्रिकी की एक पावरफुल ट्रिक है, जिससे उनकी सेल पर काफी असर पड़ता है। वहीं, दूसरी ओर महारानी एलिजाबेथ द्वितीय को अंतिम विदाई देने के लिए बड़ी संख्या में प्रशंसक लंदन में जमा हुए। जिसके चलते वहां रेस्टोरेंट और होटलों में भारी भीड़ देखने को मिल रही है। सोमवार (19 सितंबर 2022) को महारानी का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा।

पढें अंतरराष्ट्रीय (International News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 17-09-2022 at 09:19:09 pm
अपडेट