ताज़ा खबर
 

6 साल बाद भी रहस्य है नर्स मोनिका की हत्या, सरकार ने गुत्थी सुलझाने वाले के लिए रखा 5 लाख डॉलर का इनाम

ऑस्ट्रेलियाई जांचकर्ताओं का कहना है कि अबतक उन्हें इससे जुड़ा कोई बड़ा सुराग नहीं मिला है। न्यू साउथ वेल्स सरकार ने हाल ही में मामले को सुलझाने के लिए जानकारी प्रदान करने वाले को 500,000 डॉलर के इनाम की घोषणा की है।

Author Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: November 20, 2020 5:31 PM
Monika Chetty, Indian-Fijian Nurse Monika Chetty, Monika Chetty Death Mystery,मोनिका चेट्टी की रहस्यमय मौत की गुत्थी अब तक नहीं सुलझी है। (AAP Image/NSW Police)

2014 में भारतीय-फ़िज़ियन महिला मोनिका चेट्टी की रहस्यमय मौत की गुत्थी अब तक नहीं सुलझी है। ऑस्ट्रेलियाई जांचकर्ताओं का कहना है कि अबतक उन्हें इससे जुड़ा कोई बड़ा सुराग नहीं मिला है। न्यू साउथ वेल्स सरकार ने हाल ही में मामले को सुलझाने के लिए जानकारी प्रदान करने वाले को 500,000 डॉलर के इनाम की घोषणा की है।

मोनिका चेट्टी जनवरी 2014 में वेस्ट ऑफ सिडनी से करीब 40 किलोमीटर दूर वेस्ट हाक्सटन के बुशलैंड में जिंदा पाई गई थीं। इससे कुछ 5 से 10 दिन बाद उन्हें एसिड से जला दिया गया था. करीब एक महीने बाद उनकी अस्पताल में मौत हो गई थी। न्यू साउथ वेल्स पुलिस के प्रवक्ता ने आज कहा कि जांच चल रही है और इस मामले में अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। प्रवक्ता ने पुष्टि की है कि नर्स के मौत के मामले में अगले एक- दो हफ्ते में कानूनी जांच शूरू हो रही है।

इस महीने की शुरुआत में 500,000 ऑस्ट्रेलियाई डॉलर की पुरस्कार राशि की घोषणा करते हुए, राज्य के पुलिस और आपातकालीन सेवाओं के मंत्री डेविड इलियट ने कहा कि मोनिका चेट्टी की मौत में इनाम की घोषणा एक महत्वपूर्ण ऐलान है, जिससे जांचकर्ताओं को सूचना मिलने की उम्मीद है।

इलियट ने कहा कि मोनिका चेट्टी की संदिग्ध मौत को छह साल से अधिक समय हो गया है। हम सभी यह जानना चाहते हैं कि ऐसा अपराध कैसे हो सकता है। मंत्री ने कहा कि मुझे उम्मीद है कि यह इनाम उन आरोपियों तक पहुँचने में मददा करेगा जो इसके लिए जिम्मेदार हैं ताकि उसके परिवार को जवाब मिल सके की ऐसा क्यों हुआ।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘पिन प्वाइंट स्ट्राइक’ पर बोले BJP प्रवक्ता- फिर साबित हुआ कि 56 इंची छाती कैसी होती है, कमर चीमा बोले- मोदी दाढ़ी रख मजनू बन गए
2 रिपब्लिकन पार्टी के सिख नेता ने कभी नहीं किया ट्रंप के लिए वोट, कहा- उन्होंने US को कहीं ज्यादा विभाजित किया
3 बढ़ते भारत को प्रतिद्वंद्वी मान रहा चीन, लोकतांत्रिक देशों से कराना चाहता है रिश्ते खराब- अमेरिकी रिपोर्ट में लिखा
ये पढ़ा क्या?
X